डिजिटल पेमेंट से जीएसटी में मिलेगा डिस्काउंट!
नोटबंदी के बाद कैशलेस इकॉनमी को इसके प्रमुख उद्देश्यों में गिनाया गया था।


नई दिल्ली : कार्ड या इलेक्ट्रॉनिक वॉलेट से पेमेंट करने पर आपको जीएसटी में छूट मिल सकती है। बताया जा रहा है कि सरकार इस सिस्टम को और पारदर्शी बनाने और कैश ट्रांजेक्शन को कम करने के लिए यह ऐलान कर सकती है। सूत्रों का कहना है कि इस सिस्टम को इस तरह से तैयार किया जा रहा है कि इसके बाद लोगों को रेस्तरां पर कम टैक्स देना होगा। इसके अलावा कंस्यूमर ड्यूरेबल खरीदते समय भी यदि आप डिजिटल पेमेंट करते हैं तो भी टैक्स में छूट का फायदा मिल सकता है। गौरतलब है कि जीएसटी के तहत लगने वाले टैक्स को चार स्लैब 5%, 12%, 18% और 28% में रखा गया है। 

बताया जा रहा है कि पिछले साल हुई नोटबंदी के बाद विपक्ष के हमलों का जवाब देने और जनता के बीच अपना माहौल बनाए रखने के लिए सरकार आज इस तरह का ऐलान कर सकती है। नोटबंदी के बाद कैशलेस इकॉनमी को इसके प्रमुख उद्देश्यों में गिनाया गया था। जहां पेट्रोल पंप पर कार्ड से पेमेंट करने पर कैश बैक के जरिए लोगों को इसका फायदा पहुंचाया जा रहा है, वहीं इस योजना को अभी तक किसी और कैटिगरी में लागू नहीं किया गया है। जीएसटी की शुरुआत में टैक्स संबंधी जांच में मदद की उम्मीद जताई गई थी, लेकिन नतीजे उतने अच्छे नहीं दिख रहे हैं, क्योंकि रिटेलर्स और सर्विस प्रोवाइडर कार्ड स्वीकार करने में कठिनाई दिखाते हैं और कैश के इस्तेमाल को बेहतर। 

ऐसे में कार्ड से पेमेंट करने पर टैक्स छूट का ऑफर देकर सरकार ऐसे लोगों को कैशलेस स्कीम से जोड़ने की कोशिश कर रही है। इसके जरिए लोग कार्ड से पेमेंट को प्राथमिकता देंगे और उन्हें इसका फायदा भी होगा। यह कदम ऐसे समय पर उठाया जा रहा है, जब रोजमर्रा के काफी आइटमों को 28 प्रतिशत से 18 प्रतिशत टैक्स के दायरे में लाने की बात चल रही है। 

अधिक बिज़नेस की खबरें

हैवलेट पैकर्ड एंटरप्राइजेज की मुख्य कार्यकारी अधिकारी मेग व्हिटमैन का इस्तीफा, जानिये कौन हैं मेग व्हिटमैन..

अमेरिका की प्रमुख कंपनी हैवलेट पैकर्ड (एचपी) एंटरप्राइजेज की मुख्य कार्यकारी अधिकारी मेग व्हिटमैन ने अपने पद ......