इतिहास : इस गाड़ी ने बनाया सबसे जल्दी बिकने वाली गाड़ी
चीनी आॅटोमोटिव समूह गीली ने तकरीबन एक साल पहले Lynk & Co नाम से आॅटोमोटिव स्टार्टअप शुरू किया था।


नई दिल्ली : चीनी आॅटोमोटिव समूह गीली ने तकरीबन एक साल पहले Lynk & Co नाम से आॅटोमोटिव स्टार्टअप शुरू किया था। इसने '01' नाम से एक कॉम्पैक्ट एसयूवी बनाई और इस साल की शुरुआत तें इसे शोकेस किया। कुछ दिनों पहले ही इसे लॉन्च भी कर दिया गया। कार की कीमतों की घोषणा की गई और 17 नवंबर को इस एसयूवी के लिए 6,000 कारों का प्री-आॅर्डर आ गया। ये सभी 6,000 कारें महज 137 सेकंड्स में आॅनइलान बुकिंग के जरिए बिक गईं। यह आॅटोमोटिव इतिहास में अब तक की सबसे जल्दी बिकने वाली कार बन गई है, जो कि एक रेकॉर्ड है। 

इस ऐतिहासिक क्षण को सेलिब्रेट करते हुए Lynk & Co के वाइस प्रेजिडेंट ने कहा, 'हमें गर्व हो रहा है कि यह कार इतनी तेजी से बिकी। दरअसल, अब सफर की शुरुआत हुई है।' 

अभी Lynk & Co की 01 एसयूवी में पेट्रोल इंजन लगाए जा रहे हैं जो कि वोल्वो पावर प्लांट्स में बनाए जा रहे हैं। भविष्य में कंपनी इलेक्ट्रिक पावर प्लांट लगाने की योजना के साथ आगे बढ़ रही है। यह एसयूवी उसी CMA प्लैटफॉर्म पर बनी है जिसपर Volvo XC40 एसयूवी को बनाया गया है। भारतीय करंसी के हिसाब से देखें तो चीन में इस गाड़ी की शुरुआती रेंज 15 लाख से शुरू होकर 20 लाख रुपए तक जाती है। गीली भविष्य में भारत में भी कदम रख सकती है।

अधिक बिज़नेस की खबरें