भारत ने अरबपतियों की फोर्ब्स लिस्ट में बनाया तीसरा स्थान, मुकेश अंबानी टॉप पर कायम
अरबपतियों की कुल संख्या के मामले में भारत पहली बार दुनिया में तीसरे नंबर पर आ गया है।


न्यूयॉर्क : अरबपतियों की कुल संख्या के मामले में भारत पहली बार दुनिया में तीसरे नंबर पर आ गया है। फोर्ब्स की बिलेनियर्स की लिस्ट में इस बार भारत ने जर्मनी को पछाड़ दिया। सबसे ज्यादा अरबपति अमेरिका में हैं। उसके बाद चीन का नंबर आता है। इस लिस्ट के मुताबिक, भारत में इस साल 19 नए अरबपति जुड़े हैं और कुल अरबपतियों की संख्या 121 हो गई है जो पिछले साल 102 थी।

प्रतिष्ठित पत्रिका फोर्ब्स ने इस साल की अरबपतियों की वैश्विक सूची जारी कर दी है। फोर्ब्स ने कहा है कि उद्योगपति मुकेश अंबानी की संपत्ति पिछले साल के मुकाबले 16.9 बिलियन डॉलर (1.09 लाख करोड़ रुपये) बढ़ी है और वह 40.1 अरब डॉलर (करीब 2.60 लाख करोड़ रुपये) की संपत्ति के साथ देश के सबसे अमीर व्यक्ति बने हुए हैं। हालंकि, दुनिया में उनका नंबर 19वां है। 2017 की लिस्ट में अंबानी 23.2 बिलियन डॉलर के साथ 33वें नंबर पर थे। यानी, मुकेश अंबानी एक साल में 13 पायदान आगे बढ़ गए हैं। 

देश की दिग्गज सॉफ्टवेयर कंपनी विप्रो के अजीम प्रेमजी इस साल लक्ष्मी मित्तल को पीछे छोड़ते हुए देश के दूसरे सबसे अमीर व्यक्ति बन गए हैं। पिछले साल प्रेमजी वैश्विक सूची में 72वें नंबर पर थे और इस साल वह 18.8 बिलियन डॉलर (1.22 लाख करोड़) की संपत्ति के साथ 58वें नंबर पर जगह बनाने में कामयाब रहे हैं। स्टील किंग लक्ष्मी मित्तल की कुल संपत्ति बढ़कर 18.5 बिलियन डॉलर (1.20 लाख करोड़ रुपये) हो गई है, लेकिन वह 56 से 62वें नंबर पर फिसल गए हैं। 

सॉफ्टवेयर कंपनी HCL के फाउंडर शिव नादर चौथे सबसे अमीर भारतीय हैं। 14.6 बिलियन डॉलर की संपत्ति के साथ ग्लोबल लिस्ट में वह 98वें नंबर पर हैं। सन फार्मा के फाउंडर दिलीप सांघवी पांचवें सबसे अमीर भारतीय हैं। ग्लोबल लिस्ट में वह 12.8 बिलियन डॉलर की संपत्ति के साथ 115वें नंबर पर हैं। 

फोर्ब्स की लिस्ट में सबसे अमीर भारतीय महिला जिंदल स्टील ऐंड पावर की सावित्री जिंदल हैं। ग्लोबल लिस्ट में वह 8.8 बिलियन डॉलर के साथ 176वें नंबर पर हैं। पेटीएम के फाउंडर विजय शेखर शर्मा 1.7 बिलियन डॉलर के साथ ग्लोबल लिस्ट में जगह बनानेवाले सबसे कम उम्र के भारतीय हैं। देखें 

अधिक बिज़नेस की खबरें