अमेरिकी शेयर मार्केट में बड़ी गिरावट, लगातार दूसरे दिन निवेशकों के पैसे डूबे
File Photo


मुंबई, बढ़ती ब्‍याज दरों और आर्थिक मंदी की चिंताओं के आगे अमेरिकी शेयर मार्केट भी हांफ गया और उसका हाल भी दुनियाभर के बाजारों जैसा ही रहा. डाउ जोंस और नेसडैक दोनों में गुरुवार को बड़ी गिरावट नजर आई. डाउ जोंस 2.1 प्रतिशत यानी 546 अंक गिरकर 25052 अंकों पर बंद हुआ. वहीं नेसडैक में 1.3 प्रतिशत की कमी देखी गई और यह 7329 अंक पर बंद हुआ. डाउ जोंस में पिछले दो दिन में 1400 अंक की गिरावट आ चुकी है.

बाजार में गिरावट की बड़ी वजह अमेरिका और चीन के रिश्‍तों में चल रही तनातनी है. अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप के अगले महीने चीनी राष्‍ट्रपति शी जिनपिंग से ब्‍यूनस आयर्स में जी20 समिट के दौरान मुलाकात की घोषणा के बाद कुछ देर के लिए अमेरिकी बाजार संभले लेकिन लगातार दूसरे दिन बड़ी गिरावट के साथ बंद हुए.

बता दें कि बुधवार को अमेरिकी बाजार डाउ जोंस में 832 की कमी आई थी जो कि वहां पर इस साल फरवरी के बाद से सबसे ज्‍यादा थी. निवेशकों में अफरातफरी का माहौल है और वे लगातार बिकवाली कर रहे हैं. हालांकि बुधवार की गिरावट के बाद अमेरिकी राष्‍ट्रपति ट्रंप ने ब्‍याज दरें बढ़ाने पर फेडरल बैंक की खिंचाई की थी.

अमेरिकी बाजारों में गिरावट से चीन की इंटरनेट दिग्‍गज टेनशेंट में भी चिंता है. उसने बाजार में चल रही अस्थिरता के चलते अपने आईपीओ को कुछ समय के लिए टालने की बात कही है. टेनशेंट मार्केट कैपिटलाइजेशन में एशिया की सबसे बड़ी कंपनी है.

इससे पहले गुरुवार को भारत सहित एशिया के कई बाजार गिरावट के साथ बंद हुए थे. भारत के प्रमुख शेयर मार्केट सेंसेक्‍स 980 अंक की गिरावट के साथ खुला था.

अधिक बिज़नेस की खबरें