मोदी सरकार का बड़ा तोहफा, रेल में फ्री यात्रा कर पाएंगे सरकारी कर्मचारियों के बच्चे!
file photo


लोकसभा चुनाव से पहले मोदी सरकार ने सरकारी कर्मचारियों को एक और बड़ा तोहफा दिया है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक रेलवे अपने कर्मचारियों के दो बच्चों को अब 33 वर्ष की उम्र तक मुफ्त यात्रा पास देगा. पहले ये उम्र सीमा 21 साल की आयु तक थी. रेल मंत्री पीयूष गोयल ने इसके आदेश भी जारी कर दिए हैं. रेल मंत्री ने ऑल इंडिया रेलवे मेंस फेडरेशन के साथ बैठक के बाद इस प्रस्ताव को हरी झंडी दी. रेल मंत्री ने सभी मंडल रेल प्रबंधकों को पत्र जारी कर दिए गए हैं

रेल कर्मचारियों की ये मांग सालों से चल रही थी. रेल कर्मचारियों का कहना था कि उनके बच्चे 20 या 21 साल की उम्र के बाद ही ज्यादा सफर करते हैं. वो दूसरे राज्यों या शहरों में पढ़ाई के बाद प्रतियोगी परीक्षा देने या फिर दूसरे कोर्स के लिए बाहर जाते हैं. इस कारण रेलवे कर्मचारियों ने सरकार से बच्चों को रेल सफर की दी जाने वाली सुविधा की समय सीमा बढ़ाने की मांग की थी.

शादी के बाद बेटी को नहीं मिलेगी सुविधा
इस व्यवस्था के तहत कर्मी के बेटे और बेटी दोनों ही शामिल हैं, पर बेटी शादी होते ही मुफ्त यात्रा पास से वंचित हो जाएगी. बेटे शादी के बाद यानी 33 साल की आयु तक सफर कर सकेंगे बशर्ते वे आत्मनिर्भर न हों. मतलब खुद सरकारी नौकरी कर रहे हैं तो इस सुविधा से वंचित हो जाएंगे.

अधिक बिज़नेस की खबरें