ओबीसी ने ब्याज दर में की कटौती, सस्‍ता हुआ होम और ऑटो लोन
बैंक ने एक रेगुलेटरी फाइलिंग में ये जानकारी दी है, जिसमें कहा गया है कि बैंक 11 जून से अलग-अलग अवधि के लिए एमसीएलआर में बदलाव किया है।


नई दिल्ली (हि.स.)। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) के रेपो रेट में कटौती का असर अ‍ब दिखने लगा है। ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स (ओबीसी) ने विभिन्न अवधि लिए के एमसीएलआर में 0.10 फीसद तक की कटौती की है। ये दर मंगलवार से प्रभावी होगा। 

बैंक ने एक रेगुलेटरी फाइलिंग में ये जानकारी दी है, जिसमें कहा गया है कि बैंक 11 जून से अलग-अलग अवधि के लिए एमसीएलआर में बदलाव किया है। ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स के कस्‍टमर्स के लिए ये अच्‍छी खबर है। ओबीसी के इस कदम से उनके होम लोन और ऑटो लोन की ईएमआई का बोझ कम हो जाएगा। 

ओबीसी ने की 0.10 फीसदी तक की कटौती
बैंक के इस निणर्य से एक महीने के कर्ज के लिए एमसीएलआर जो कि  पहले 8.45 फीसद था, उसमें 0.10 फीसदी तक की कटौती करके 8.35 फीसद कर दिया गया है। छह महीने का एमसीएलआर जो कि पहले 8.70 फीसदी था, उसे 8.60 फीसदी कर दिया गया है। 

एक साल के एमसीएलआर में 0.05 की कमी 
इसी तरह एक साल की अवधि के लिए एमसीएलआर को 8.75 फीसदी से कम करके 8.70 फीसदी कर दिया गया है। बैंक ने ओवरनाइट एमसीएलआर और तीन महीने के एमसीएलआर में कोई बदलाव नहीं किया है। यह पहले की तरह क्रमशः 8.30 फीसदी और 8.50 फीसदी पर बरकरार है। 
ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स की ये घोषणा भारतीय रिज़र्व बैंक की ओर से रेपो रेट में 0.25 फीसदी की कटौती के बाद आया है। उल्‍लेखनीय है कि बैंक हर महीने एमसीएलआर का समीक्षा करता है।

अधिक बिज़नेस की खबरें