Paytm से वॉलेट रिचार्ज करने पर लेगा दो प्रतिशत शुल्क
पेटीएम ने कहा कि भरोसेमंद यूज़र को कंपनी 2 प्रतिशत चार्ज को कूपन के तौर पर लौटा देगी जिनका इस्तेमाल पेटीएम पर किया जा सकता है.


नई दिल्ली : मोबाइल वॉलेट कंपनी पेटीएम अपने यूजर्स से क्रेडिट कार्ड के जरिये मोबाइल वॉलेट में पैसा ट्रांसफर करने के लिए चार्ज वसूलेगा. जबकि, मोबीक्विक ऐसा कुछ नहीं करेगा. दोनों ही कंपनियों की ओर से यह बात स्पष्ट कर दी गई. अलीबाबा के समर्थन वाली पेटीएम का कहना है कि उसे जानकारी लगी है कि उसके प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करने वाले बहुत से लोग क्रेडिट कार्ड के जरिये अपने मोबाइल वॉलेट में पैसा डालकर मुफ्त में लोन फैसिलिटी लेते हैं. इस पैसे को वे बाद में अपने बैंक खाते में डाल लेते हैं. इस पर उन्हें कोई शुल्क नहीं देना पड़ता.

मोबिक्विक ने कहा है कि इस मामले में उसके उपयोक्ताओं को फिलहाल ऐसा कोई शुल्क नहीं देना होगा. मोबाइल वॉलेट कंपनी मोबिक्विक ने कहा कि उसके यूजर्स क्रेडिट कार्ड सहित अन्य माध्यमों से अपने वॉलेट में पैसा नि:शुल्क डालते रह सकते हैं कंपनी इसके लिए कोई शुल्क नहीं लगा रही. सरकार द्वारा नोटबंदी की घोषणा के बाद नकदी रहित लेन-देन को बढ़ावा देने के सरकार के प्रयासों के तहत कंपनी ने वॉलेट में पैसा डालने पर लगाने वाले शुल्कों को समाप्त कर दिया था. कंपनी ने आज एक बयान में दोहराया कि यह छूट जारी रहेगी. कंपनी का कहना है कि उसके मंच से 5.5 करोड़ यूजर्स और 14 लाख मर्चेंट जुड़े हैं.

पेटीएम ने यह चार्ज गुरुवार से लगाना शुरू किया है. हालांकि, अन्य भुगतान विकल्पों मसलन डेबिट कार्ड और नेट बैंकिंग के जरिये पैसे डालने भी कोई शुल्क नहीं लगेगा. पेटीएम ने एक ब्लॉग पोस्ट में कहा, ‘कुछ वित्तीय रूप से सजग लोगों ने इस मॉडल का इस्तेमाल कर पैसे को घुमाने का काम किया है.’

पेटीएम ने कहा कि भरोसेमंद यूज़र को कंपनी 2 प्रतिशत चार्ज को कूपन के तौर पर लौटा देगी जिनका इस्तेमाल पेटीएम पर किया जा सकता है. बाद में पेटीएम के संस्थापक विजय शेखर शर्मा ने स्पष्ट किया कि इन कूपन का इस्तेमाल स्विगी या उबर जैसे थर्ड पार्टी प्लेटफॉर्म पर भी संभव होगा. हालांकि, इसकी व्यवस्था अभी नहीं की गई है.

अधिक बिज़नेस की खबरें