रियल एस्टेट, रिटेल और लॉजिस्टिक्स में निकलेंगी सबसे ज्यादा नौकरियां
2022 तक इस सेक्टर में 22 लाख नई नौकरियां जुड़ने की उम्मीद जताई जा रही है।


नई दिल्ली : कंस्ट्रक्शन, रियल एस्टेट, ब्यूटी, वेलनेस, ऑर्गनाइज्ड रिटेल, ट्रांसपोर्ट और लॉजिस्टिक्स जैसे सेक्टर्स में आने वाले भविष्य में सबसे ज्यादा नौकरियां निकल सकती हैं। एसोचैम की ओर से जारी की गई एक रिपोर्ट के मुताबिक आने वाले 5 सालों में आईटी और उससे जुड़े सर्विस सेक्टर में 10 लाख नई नौकरियों के अवसर पैदा हो सकते हैं। रिपोर्ट में कहा गया, 'आईटी सेक्टर मौजूदा दौर में दबाव से गुजर रहा है। 2013 में इस सेक्टर में 33 लाख लोगों को रोजगार मिला हुआ था। 2022 तक इस सेक्टर में 22 लाख नई नौकरियां जुड़ने की उम्मीद जताई जा रही है। इनमें से अगले 3 से 4 सालों में ही करीब 10 लाख नई जॉब्स के अवसर पैदा होंगे।'

एसोचैम के सेक्रटरी जनरल डीएस रावत ने कहा, 'एक ऐसे देश में जहां हर साल 1.5 से 2 करोड़ नौकरियों की जरूरत है। ऐसे में हमें इस बारे में गंभीरता से सोचना होगा कि किस तरह से नई नौकरियां ज्यादा से ज्यादा पैदा की जा सकें।' रिपोर्ट के मुताबिक 2013 में कंस्ट्रक्शन, बिल्डिंग और रियल एस्टेट सेक्टर में 4.5 करोड़ लोग नौकरी कर रहे थे। इन सेक्टर्स में ही आने वाले दिनों में 3 करोड़ से ज्यादा लोगों की जरूरत होगी। 

रावत ने कहा, 'नॉन परफॉर्मिंग एसेट्स, बढ़ते कर्ज, हाउसिंग प्रॉजेक्ट्स की डिलिवरी में देरी और पर्यावरणीय कानूनों की बाधाओं के चलते इन्फ्रास्ट्रक्चर सेक्टर बुरी तरह प्रभावित हुआ है। हमें इन समस्याओं से तेजी से निपटना होगा ताकि यह सेक्टर आने वाले समय में नौकरियों की ग्रोथ का इंजन साबित हो सके।' इसी तरह से रिटेल सेक्टर में आने वाले 5 सालों में 1.2 करोड़ नौकरियों के अवसर पैदा हो सकते हैं। इसके अलावा टेक्सटाइल और क्लॉथिंग सेक्टर में भी बड़े पैमाने पर नौकरियों के सृजन की संभावना है।

अधिक बिज़नेस की खबरें