लड़कियां पांव में क्यों बांधती है काला धागा, जानिए वजह
लड़कियां पांव में क्यों बांधती है काला धागा, जानिए वजह


अक्सर लड़कियां अपने शरीर का बहुत ज्यादा ख्याल रखती है। ज्यातर लड़कियां अपने पैर में काला धागा बंधे रहती हैं। वैसे पैर में काला धागा बांधना एक आज कल चलन में है। लेकिन कभी सोचा है की इस धागे के पैर में बांधने का असली कारण क्या है। 

आपके अंदर यह प्रश्न जरूर उठा होगा पर आज हम आपको बताएंगे कि लड़कियां अपने पैर में काला धागा क्यों बांधती हैं। आइए जानते है कि लड़कियां काला धागा क्यों बांधती है।

यदि शास्त्रों के मुताबिक, प्राचीन काल से ही काले रंग का बहुत महत्व है यह व्यक्ति को नकारात्मक ऊर्जा के प्रभाव से मुक्त रखता है। शास्त्रों के अनुसार यदि व्यक्ति अपने शरीर पर काले रंग का टीका लगाता है तो यह उसे लोगों की बुरी नजर से बचाता है। 

इसी कारण अक्सर मां अपने छोटे बच्चे को काला टीका लगाती है या उसके पैरों में काला धागा बांधती है माना जाता है कि काला रंग किसी भी व्यक्ति की एकाग्रता को भंग करता है जिससे उसकी दृष्टि का बुरा प्रभाव काला रंग धारण करने वाले व्यक्ति पर नहीं पड़ता है।

शास्त्रों के मुताबिक, काला धागा पैर में बांधना एक टोटका है और लड़कियां अपने पैरो पर काला धागा इसलिए बांधती है ताकि उनकी खूबसूरती को किसी की नजर न लगे क्योंकि काला धागा उनकी खूबसूरती पर दाग का काम करता है। 

इससे लोग की नजर नही लगती लेकिन वर्तमान समय मे पैर पर काला धागा एक फैशन के रूप में उभर कर आया है अब हर लडक़ी इस फैशन को फॉलो करते हुए पेर पर काला धागा बांधती है।

काला धागा बांधने के पीछे कई तरह के वैज्ञानिक कारण भी हैं। हमारा शरीर पंच तत्वों से मिलकर बना हुआ है जिनमें पृथ्वी, वायु, अग्नि, जल और आकाश के तत्व शामिल हैं। जब किसी इंसान की बुरी नजर हमें लगती है तब इन पंच तत्वों से मिलने वाली संबंधित सकारात्मक ऊर्जा हम तक नहीं पहुंच पाती है। इसीलिए शरीर में काला धागा बांधा जाता है।

अगर हम बुरी नजर से बचने के लिए काले धागे के प्रयोग की बात करें तो इसकी वैज्ञानिक मान्यता यह भी है कि काला रंग उष्मा का अवशोषक होता है।

अधिक धर्म कर्म की खबरें