आमिर खान ने कहा रात को मैं अकेले में बहुत रोता था
AAmir-khan


मुंबईः मिस्टर परफेक्शनिस्ट आमिर खान की फिल्में और उनकी अदाकारी के ढेर सारे फैंस हैं लेकिन आपको बता दें कि मिस्टर परफेक्शनिस्ट भी अपने करियर को लेकर अकेले में रोया करते थे. जी हां बिलकुल सही सुना आपने यह हम नहीं खुद आमिर खान ने कहा है. मुंबई में स्क्रीन राइटर एसोसिएशन के कॉन्फ्रेंस में आमिर खान मुख्य अतिथि के रुप में सम्मिलित हुए थे वहां आए 800 स्क्रीन राइटर से बातचीत में आमिर खान ने ढेर सारी गुफ्तगू की और किस तरह से वह खुद को बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री में जमा पाए यहां तक ला पाए उसकी बातें भी साझा की.

आमिर खान ने कांफ्रेंस के दौरान बताया कि नए स्क्रीन राइटर को परेशान होने की जरूरत नहीं है. शुरुआत के दिनों में अक्सर कई बातें आपके मन मुताबिक नहीं होती. आमिर ने कहा कि अपने करियर की शुरुआत में उन्हें  भी कई बार दूसरों की पसंद की चीजें करनी पड़ती थी. जो वह सोचते थे चाहते थे वह नहीं कर पाते थे. दिन में शूट करके रात में अक्सर रोते थे लेकिन 8 -10 फिल्मों के बाद धीरे-धीरे फिल्म इंडस्ट्री उन्हें और वह फिल्म इंडस्ट्री को समझने लगे और आज आमिर खान आमिर खान है.आमिर ने नवोदित स्क्रीन राइटर्स को सलाह दी कि शुरुआत में उन्हें अपने आपको काम करने के लिए फ्लेक्सिबल करना पड़ेगा.और जब उनका नाम हो जाएगा उनके काम को लोगों द्वारा पसंद किया जाएगा तो फिर उनकी भी बात जरूर सुनी जाएगी.

 स्क्रीन राइटर्स को पहचान दिलाने के लिए सही मुआवजा दिलाने की बात को लेकर इस कांफ्रेंस का आयोजन किया गया है... जिसमें फिल्म इंडस्ट्री से जुड़े हुए कई दिग्गजों ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराएं जिसमें अंजुम रजबअली ,,सिद्धार्थ रॉय कपूर ,करण सोमेन भी मौजूद थे. कॉन्फ्रेंस का विषय "वेड माइंड इज विदाउट फियर" था.

अधिक मनोरंजन की खबरें