जब पोस्टर पर इस अभिनेता का नाम देखकर भड़क गए थे दिलीप कुमार!
File Photo


पृथ्वीराज कपूर का जन्म 3 नवंबर 1906 को पाकिस्तान के पेशावर में हुआ था. पृथ्वीराज के पिता फिल्मों में उनके काम करने के खिलाफ थे. हालांकि उन्होंने अभिनय और नाटकों में काम करने की ललक की वजह से अपनी पढ़ाई बीच में ही छोड़ दी और फिल्मों में काम करने के लिए मुंबई चले आए. उन्होंने भारत की पहली बोलने वाली फिल्म 'आलम आरा' में अलग-अलग आठ रोल निभाए. लेकिन सोहराब मोदी की फिल्म 'सिंकदर' से उनको बॉलीवुड में सफलता मिलनी शुरू हुई .

वैसे तो पृथ्वीराज ने अपने फिल्मी करियर में कई बेहतरीन फिल्में की हैं, लेकिन 'मुगल-ए-आजम' में उनके अकबर के रोल को भुला पाना मुश्किल है. इस फिल्म में पृथ्वीराज के साथ दिलीप कुमार और मधुबाला भी थे. लेखक रशीद किदवई ने अपनी एक किताब में इस फिल्म से जुड़े एक वाकये का जिक्र किया है.

उन्होंने अपनी किताब 'नेता अभिनेता' में जिक्र किया है कि मधुबाला और दिलीप कुमार इस बात से नाराज थे कि इस फिल्म की स्टार कास्ट में पहला नाम पृथ्वीराज कपूर का था. ऐसे में जब स्टारकास्ट के नामों की लिस्ट को लेकर दिलीप कुमार ने फिल्म के निर्देशक के. आसिफ़ से बात की तब उन्होंने कहा, " मैं मुगल-ए-आज़म बना रहा हूं, सलीम-अनारकली नहीं."

पृथ्वीराज कपूर ने अपनी खुद की थिएटर कंपनी 'पृथ्वी थिएटर' की भी शुरुआत की. कहा जाता है कि पृथ्वी थिएटर से पृथ्वीराज का इतना लगाव था कि तबीयत खराब होने के बावजूद वे हर शो हिस्सा बनने की कोशिश किया करते थे. अपनी कड़क आवाज़ और बेहद शानदार अभिनय से सिने प्रेमियों के दिलों पर राज करने वाले पृथ्वीराज कपूर को हिंदी सिनेमा जगत उनके योगदान के लिए हमेशा याद करेगा.

अधिक मनोरंजन की खबरें