टैग:entertainment#,article15#,varanasi#,
फिल्म आर्टिकल-15 के विरोध की सम्भावना पर पुलिस चौकन्नी, पहरा
कानपुर में फिल्म आर्टिकल-15 का विरोध देख शुक्रवार को वाराणसी में पुलिस चौकन्नी हो गई


वाराणसी: कानपुर में फिल्म आर्टिकल-15 का विरोध देख शुक्रवार को वाराणसी में पुलिस चौकन्नी हो गई। शहर के छावनी क्षेत्र स्थित विभिन्न मॉल में जहां यह फिल्म दिखाई जा रही है, वहीं सिनेमा हाल के बाहर पुलिस ने अपना घेरा बढ़ा लिया है। फिल्म के विरोध की सम्भावना के बावजूद युवा छावनी क्षेत्र स्थित जेएचवी मॉल के थियेटर में पूरे उत्साह के साथ सिनेमा देखते रहे।

फिल्म आर्टिकल-15 का कानपुर के सिनेमाघरों में आज जमकर विरोध प्रदर्शन हो रहा हैं। युवाओं ने शहर के कई सिनेमाघरों में तोड़फोड़ कर फिल्म के पोस्टर भी फाड़े। वर्ग विशेष के लोगों ने फिल्म को लेकर आपत्ति जताई है। फिल्म के ट्रेलर को देखकर सबसे पहले मध्य प्रदेश में ब्राह्मण समाज नाराज हो गया। समाज से जुड़े संगठनों ने फिल्म का प्रदर्शन रोकने की मांग की थी। 

आयुष्मान खुराना की फिल्म आर्टिकल-15 से यह वर्ग बेहद खफा है। समाज के साथ हिन्दू युवा वाहिनी और शिवसेना के कार्यकर्ता भी खड़े हैं। फिल्म के ट्रेलर को लेकर हुए विवाद के बाद फिल्म के निर्देशक अनुभव सिन्हा ने सभी ब्राह्मण संगठनों से सोशल मीडिया पर क्षमा भी मांग ली थी। अनुभव सिन्हा ने अपनी इस फिल्म में जातिवाद जैसे संवेदनशील मुद्दे को उठाया हैं। फिल्म भारतीय संविधान के अनुच्छेद 15 के इर्द-गिर्द घूमती है, जिसमें धर्म, जाति, नस्ल, लिंग या जन्म स्थान के आधार पर भेदभाव पर रोक है। फिल्म आज शुक्रवार को परदे पर प्रदर्शित हुई है। 

अधिक मनोरंजन की खबरें