टैग:article15#,entertainment#,kanpur#,
फिल्म आर्टिकल 15  का ब्राह्मण संगठनों ने किया विरोध, मंडलायुक्त कार्यालय का किया घेराव
फिल्म आर्टिकल 15 का विरोध थमने का नाम नहीं ले रहा है


कानपुर: फिल्म 'आर्टिकल 15' का विरोध थमने का नाम नहीं ले रहा है। इसी क्रम में बुधवार को ब्राह्मण संगठनों ने पैदल जुलूस निकाल कर इसका विरोध दर्ज कराया। इसके साथ ही मंडलायुक्त से मिलने गये लोगों ने मंडलायुक्त के बाहर न आने पर कार्यालय का घेराव कर दिया। सड़क पर जाम लगने से पुलिस ने ज्ञापन लेकर किसी तरह से उन्हे शांत कराया। 

सर्व ब्राह्मण महासभा, अखिल भारतीय ब्राह्मण एकता परिषद, भगवान परशुराम कल्याण समिति आदि संगठनों ने एक जुट होकर 'ब्राह्मण समन्वय समिति' के नेतृत्व में तमाम ब्राह्मण फिल्म 'आर्टिकल 15' के विरोध में पैदल जुलूस निकाला। 

जुलूस के दौरान जगह-जगह पर नारेबाजी की गयी और फिल्म रोकने की मांग की गयी। फूलबाग से जुलूस मंडलायुक्त कार्यालय पहुंचा और जूलूस को देख कार्यालय के कर्मचारियों ने गेट को बंद कर दिया। इसके बाद संगठन के लोग बाहर नारेबाजी करने लगे और सड़क को जाम कर दिया। सड़क जाम की सूचना पर पहुंची पुलिस ने विरोध कर रहे लोगों को किसी तरह से समझाया और जाम को खुलवाया। इसके साथ ही पुलिस ने संगठन के लोगों से ज्ञापन लेकर मंडलायुक्त तक पहुंचाने की बात कही। 

सर्व ब्राह्मण महासभा संघटन के सचिव यज्ञ कान्त शुक्ल ने बताया कि इस फिल्म को लेकर ब्राह्मणों में आक्रोश है। फौरन इस फिल्म पर प्रतिबंध लगाया जाए या ब्राह्मण विरोधी दृश्य को हटाकर संशोधन किया जाये। 

पंडित भूपेश अवस्थी ने कहा कि फिल्म 'आर्टिकल 15'  में जातिगत संवाद एवं ब्राह्मण विशेष की भावनाओं को काफी आहत पहुंचाया गया है। जिले में शांति व समरसता बनाए रखने की दिशा में सभी सिनेमाघरों में फिल्म दिखाए जाने पर रोक लगायी जाए। सिनेमा मालिकों को फिल्म 'आर्टिकल 15' के शो को प्रतिबंधित करने के लिए उचित कदम उठाए। इस दौरान अभियान में नरेन्द्र द्विवेदी, वीरेंद्र दुबे, वाई के शुक्ला,  हरी त्रिपाठी, पवन दुबे, वरुण मिश्रा, एवं अन्य तमाम सदस्य मौजूद रहे। 

अधिक मनोरंजन की खबरें