फिक्की फ्लो द्वारा एमरन फाउंडेशन फिल्म मेकिंग से जुड़े छात्रों को करेगा प्रशिक्षित  
राशिफल


लखनऊ : हमारे देश में प्रतिभाओं की कमी नहीं है बशर्ते इन्हें उजागर करने  के लिए किसी प्लेटफार्म की जरूत होती है अलग-अलग राज्यों में के छोटे-छोटे गांवों ऐसे नौजवान लोग होंगे, जिनके पास हुनर की कमी नहीं लेकिन उसे सामने कैसे लाया जाये समस्या इस बात की है  बता दें कि एमरन फाउंडेशन और लखनऊ फिल्म फोरम संस्था ने ऐसे कुछ लोगों की तकदीर बदलने का जिम्मा उठाया है। एमरन फाउंडेशन का सम्मान समारोह 'स्टेप इन स्टोन' वेबीनार के माध्यम से संपन्न हुआ एमरन फाउंडेशन, फिक्की फ्लो लखनऊ सहयोगी प्रयास के साथ मीडिया और मनोरंजन उद्योग में फिल्म मेकिंग के विभिन्न आयामों में से मुख्य रूप से चार पाठ्यक्रम का चयन किया गया जोकि विजुअल इफैक्ट्स एनिमेशन फिल्म मेकिंग और स्क्रिप्ट राइटिंग है। 

इस पाठ्यक्रम में 200 छात्रों ने दाखिला लिया और 83 छात्रों ने इस पाठ्यक्रम को पूरा किया। जिसके फलस्वरूप इन सभी छात्रों को प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया गया, इसके साथ ही कोरोना योद्धा के रूप में प्रिंट ,रेडियो और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के 25 कर्मियों को सम्मानित किया गया।  

कार्यक्रम की मुख्य अतिथि प्रयागराज से सांसद प्रोफेसर रीता बहुगुणा जोशी ने इस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि एमरन फाउंडेशन का प्रदेश की प्रतिभाओं को निखारने में बड़ा योगदान है ,लखनऊ फिल्म फोरम के माध्यम से यह संस्था निरंतर प्रदेश के युवाओं को फिल्म निर्माण के क्षेत्र में जाने के लिए प्रेरित करती है और उन्हें प्रशिक्षित करती है उन्होंने कहा कि शीघ्र ही प्रदेश में फिल्म सिटी का निर्माण हो जाएगा जिससे इन सभी प्रतिभाओं को अपना हुनर दिखाने का मौका यही मिल जाएगा। प्रदेश में फिल्म सिटी के बन जाने से तमाम तरीके से रोजगार के अवसर पैदा होंगे और फिल्म क्षेत्र में जाने वालों का संघर्ष भी कम होगा।

एमरन फाउंडेशन की निदेशक रेणुका टंडन ने इस अवसर पर बोलते हुए कहा कि हमने यह मंच फिल्म उद्योग से जुड़े लोगों की दुर्दशा को देखते हुए बनाया है इसका मुख्य उद्देश्य लखनऊ और आसपास के क्षेत्रों की प्रतिभाओं को संग्रहित कर एक प्रतिभा बैंक बनाना है।

(देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते है) 

अधिक मनोरंजन की खबरें