रिसर्च में खुलासा, नेल पॉलिश लगाने के दो घंटे बाद ही...
रिसर्च में खुलासा, नेल पॉलिश लगाने के दो घंटे बाद ही...


शायद ही ऐसी कोई लड़की होगी जिसे नेल पेंट लगाना न अच्छा लगता हो। हालांकि इससे आपके नेल और अच्छे लगने लगते है। लेकिन क्या आपने इस बारे में सोचा है कि ये नेल पेंट आपकी स्वास्थ्य के लिए सही है या नहीं? इसे प्रतिदिन लगाने से बचना चाहिए? हाल ही में किए गए एक शोध में इस बात का खुलासा हुआ है कि, नेल पॉलिश लगाने के दो घंटे बाद ही नेल पॉलिश में उपस्थित केमिकल्स खून में प्रवेश कर सकते हैं। इस अध्ययन में कुछ महिलाओं के मूत्र में डाईफिनाइल फॉस्फेट की जांच की गयी जिसका निर्माण तब होता है जब शरीर टीपीएचपी का चय्पचय करता है जो एक रासायनिक जहर है। 

अध्ययन के अनुसार नेल पॉलिश लगाने के 10-14 घंटे बाद डीपीएचपी का सीरम स्तर दस गुना बढ़ गया। विशेषज्ञ बताते हैं कि, इन केमिकल्स के कारण इनफर्टिलिटी, हार्मोन्स से संबंधित कैंसर जैसे ब्रेस्ट, ओवेरियन, प्रोस्टेट तथा थाईराइड से संबंधित बीमारियां, मस्तिष्क की बीमारियां, डाइबिटीज और मोटापा आदि की संभावना बढ़ जाती है।

— आमतौर पर नाखून किसी भी अणुओं के लिए पारगम्य नहीं होते। परन्तु टीपीएचपी क्यूटिकल द्वारा या नाखून के आसपास के भाग द्वारा और त्वचा द्वारा सोख लिया जाता है।
— इन नेल कलर्स से एंडोक्राइन में रूकावट आने का खतरा होता है। 
— इसके कारण नेल पॉलिश लगाने के बाद शरीर इन केमिकल्स को अधिक तीव्रता से सोख लेता है। 
— श्वास के द्वारा या पाचन के माध्यम से ये केमिकल्स शरीर में प्रवेश कर जाते हैं। 
— कुछ नेल पेंट्स में यह केमिकल आवश्यक नहीं होता। 
— कभी कभी यह प्लास्टीसीजर की तरह काम करता है जो नेल पेंट की कार्यक्षम और इसे अधिक समय तक चलने वाला बनाता है। 
— इन केमिकल्स से कई प्रकार की समस्याएं हो सकती है जैसे श्वसन संबंधी बीमारियां, बच्चे के जन्म से संबंधित बीमारियां तथा सुस्ती और सिरदर्द। नेल पॉलिश का आवश्यकता से अधिक उपयोग करने से स्वास्थ्य संबंधी गंभीर समस्याएं भी हो सकती हैं।

अधिक सेहत/एजुकेशन की खबरें