इन तरीकों से आएगी सुकूनभरी नींद, जानें - कौनसी करवट है फायदेमंद
इन तरीकों से आएगी सुकूनभरी नींद, जानें - कौनसी करवट है फायदेमंद


रात भर गहरी नींद सोने वाले दिन भर तरोताजा महसूस करते है ऐसे में उनका मन प्रसन्न तो रहता ही है बल्कि कई बीमारियों व रोगों से भी दूर रहते हैं दूसरे शरीर में स्फूर्ति बनी रहेंं तो हर काम में मन लगा रहता है। चाहे बच्चे, बूढे, जवान ही क्यों न हों। अगर नींद पूरी न हो तो कई बीमारियां होने का डर रहता हैं ऐसे में व्यक्ति दिन भर सुस्त, चिडचिडा सा रहता है चाहे ऑफिस हो या घर उसका किसी भी काम में मन नहीं लगता और इसी कारण बॉडी में रोगाणुओं से लडने की क्षमता गहरी नींद सोने वालों की अपेक्षा अत्यधिक कम होती है अगर जिन लोगों को रात में ठीक प्रकार से नींद आती है तो ऐसे लोगों को कई प्रकार के रोगों से ग्रस्त में आ जाते हैं। शोधकर्ताओं ने लिखा है कि हृदयरोग, मोटापा मधुमेह और कमजारे दिमाग सभी खराब नहीं से जुडते हैं।

आप नियमित एक्सरसाइज करें, खानपान में तैलीय चीजों का सेवन कम कर दें। इसके अतिरिक्त चैन की नींद लेना चाहते हैं तो चाय की मात्रा को भी सीमित कर दें, क्योंकि चाय या कॉफी की अत्यधिक मात्रा नींद को उडाती है जबकि शरीर को स्वस्थ और प्रसन्नचित्त रखने के लिए कम से कम 6 से 7 घंटे नींद आवश्यक है, लेकिन आपको पता है सोते वक्त आपकी स्थिति। जी हां, सोते टाइम आपकी क्या दिशा होनी चाहिए और आप किस करवट सोते हैं, ये जानना आपकी हैल्थ के लिए बहुत जरूरी है।महिलाएं बाई ओर ही करवट लें।

शरीर से गंदगी निकालने का सबसे ज्यादा काम लीवर व किडनियों का ही है। इसलिये सोते वक्त इन पर ज्यादा प्रेशर नहीं डालना चाहिए। इस पेाजिशन में सोने पर जो पेट का एसिड होता है, वह ऊपर की जगत नीचे की ओर ही जाता है। जिससे एसिडिटी और सीने की जलन नहीं होती। बांए तरफ करवट कर के सोने से यह दोनों ही अपने काम ठीक प्रकार से करते हैं।

इस तरह से बॉडी के विभिन्न अंगों और दिमाग तक रक्त के साथ ऑक्सीजन का प्रवाह ठीक तरीके से होता है और आपके शरीर के सभी अंग स्वस्थ रहते हैं।

अगर आपको कब्ज की समस्या हो तो बाई ओर सोने से कब्ज से निजात मिल सकती है।

इस तरह से सोने पर भोजन अच्छी तरह से पचता है और पाचन तंत्र पर अतिरिक्त दबाव भी नहीं पडता। बाईं करवट सोने से बॉडी में जमा होने वाला टॉक्सिन लसिका तंत्र के माध्यम से निकल जाता है।

करवट लेकर सोना बहुत अच्छा होता है लेकिन ये ख्याल रखें कि बाई तरफ करवट लें। गर्भवती महिलाएं बाई ओर ही करवट लें।

अधिक सेहत/एजुकेशन की खबरें