वायु प्रदूषण से होने वाले साइड-इफैक्ट से बचाते रहेंगे ये नुस्खे
वायु प्रदूषण से होने वाले साइड-इफैक्ट से बचाते रहेंगे ये नुस्खे


सर्दियों की शुरूआत के साथ ही उत्तर भारत के शहरों में स्मॉग तथा जहरीली प्रदूषित हवा की समस्या विकराल रुप धारण कर लेती है। अधिकतर उत्तर भारत के कई शहरों में प्रदूषण का स्तर पहले ही खतरनाक स्तर से आगे निकल चुका है और हवा इतनी खराब है कि वह सांस लेने के जरा भी लायक नहीं है। इस प्रदूषित हवा के कारण लोग कई बीमारी की चपेट में आ रहे हैं। वहीं पहले से श्वास रोगों से पीड़ित लोगों के लिए तो यह प्रदूषण और भी खतरनाक साबित होता है। ऐसे में खुद का बचाव करना बहुत जरूरी है। आज हम आपको कुछ घरेलू नुस्खे बताएंगे जो आपको इस प्रदूषित हवा से होने वाले साइड इफैक्ट से बचाकर रखेंगे। 

प्रदूषित हवा से होने वाले साइड-इफैक्ट से बचाते हैं ये 3 घरेलू नुस्खे
जरूरी सामग्री
-1 गिलास पानी 
- 5-6 तुलसी की पत्तियां
- 1 चम्मच अदरक ( ग्रेंड किया हुआ)
- गुड़( क्रश किया हुआ)

बनाने का तरीका
बर्तन में 1 गिलास पानी डालकर आंच पर रखें। फिर इसमें तुलसी की पत्तियां, अदरक का पेस्ट व क्रश किया हुआ गुड़ डालकर 5 मिनट तक उबाल लें। जब यह उबल जाए तो छलनी की मदद से इसे कांच के जार या गिलास में स्टोर करें। इस सिरप को पीने से इम्यून सिस्टम मजबूत होगा और शरीर को बीमारियों व वायु प्रदूषण से होने वाले इफैक्ट से बचने की शक्ति मिलेगी। 

जरूरी सामग्री
1 गिलास पानी
5-6 तुलसी की पत्तियां
1 चम्मच नमक 
1 चम्मच शहद
आधा नींबू


बनाने का तरीका 
1 गिलास पानी को बर्तन में डालकर आंच पर रखें। फिर इसमें तुलसी की पत्तियां, नमक, नींबू रस व शहद मिलाए और अच्छे से उबालकर ठंडा होने के लिए रख दें। इस टॉनिक को पीने से पेट साफ होगा और कई तरह की प्रॉब्लम दूर होगी। 

जरूरी सामग्री
1 गिलास दूध
छोटा टुकड़ा अदरक
1 काली इलायची
3-4 तुलसी की पत्तियां 
कुछ बूंदे घी
आधा चम्मच हल्दी


बनाने का तरीका
बर्तन में 1 गिलास दूध डालकर आंच पर रखें। फिर इसमेें हल्दी, घी, अदरक, काली मिर्च, लौंग व तुलसी की पत्तियां डालकर अच्छे से 4-5 मिनट तक गर्म कर लें। फिर इसमें शहद मिलाकर पीएं। यह हल्दी दूध बच्चों और बड़ों दोनों के लिए बेस्ट है। इसे पीने से कई हैल्थ प्रॉब्लम दूर होती है। 

अधिक सेहत/एजुकेशन की खबरें