संभलकर,कहीं मर्द न सुन लें ये बातें
संभलकर,कहीं मर्द न सुन लें ये बातें


शादी के गाड़ी पति और पत्नी के बिना आगे नहीं बढ़ सकती। दोनों में से एक की गति भी धीमी हो जाए तो इसका असर रिश्तों पर पड़ने लगता है। शादी सिर्फ दो लोगों का ही नहीं बल्कि दो परिवारों का भी मेल करवाती है। इसके लिए हर लड़के के अलग-अलग विचार हैं। जहां कुछ लड़के सोचते हैं कि उनकी बीवी घर से बाहर न निकले और उनका परिवार संभालें वहीं कुछ लोग ऐसे भी हैं जो पत्नी को घर और ऑफिस दोनों की जिंम्मेदारी देते हैं। शादी के बाद भी जीने की पूरी आजादी देते हैं।
शादी से जुडी कुछ जिम्मेदारियां ऐसी भी होती हैं जिसके लिए लड़कों को पहले से ही तैयार हो जाना चाहिए। लड़की से पहले अगर लड़का अपना फर्ज अच्छी तरह से समझ जाएगा तो शादी के बाद उन्हें किसी प्रकार की समस्या नहीं होगी। आपसी और पारिवारिक संबंध भी मजबूत बनें रहेंगे।  
1. पत्नी का सम्मान
लड़को को यह बात पूरी तरह से समझनी चाहिए कि लड़की परिवार में पूरा सम्मान दिलाए। जिस तरह वह अपनी मां और बहनों का मान और इज्जत करता है उसी प्रकार दूसरे परिवार से आई लड़की को भी मान और इज्जत दें। फिर देखना की शादी के बाद की जुड़ी परेशानियां कैसे दूर भाग जाती हैं। 
2. जिम्मेदारियां
लड़के को अपनी जिम्मेदारियों से कभी भी भागना नहीं चाहिए। इसके लिए उसे पहले से ही तैयार रहना चाहिए। बिजनेस और घर को कैसे संभालना है। पत्नी की जरूरतों को किस तरीक से पूरा करना चाहिए। परिवार और पत्नी में आपसी मेल जोल कैसे कायम होना चाहिए। आप खुद ये जिम्मेदारियां समझेंगे तो शादी के बाद आपकी पार्टनर भी आपकी तरह जिम्मेदार बनेगी।
3. पत्नी की देखभाल
लड़कियों को तो शुरू से ही मां-बाप और भाई-बहनों की देखभाल करने की आदत होती है। एकदम से जब उसका जीवनसाथी उसे खास होने का अहसास दिलाता है तो उसे बहुत अच्छा लगता है। पत्नी की देखभाल करने में शर्म न करें। 
4. पूर्वानुमान न लगाएं
शादी से पहले ही होने वाली पत्नी के बारे में पूर्वानुमान न लगाएं। यह मत सोचें कि वो परिवार में तालमेल नहीं बिठा पाएगी। हो सकता हैं कि लो नए परिवार में आपकी उम्मीद से भी ज्यादा घुल मिल जाए। 

अधिक सेहत/एजुकेशन की खबरें