डोनाल्ड ट्रंप की जीत की खबर सुन दुखी हो गई थी मेलानिया
डोनाल्ड ट्रंप की पत्नी मेलानिया के साथ ही उनकी पूरी टीम को यकीन था कि वे डेमोक्रेटिक उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन से हार जाएंगे.


नई दिल्ली : अमेरिका में साल 2016 में हुए राष्ट्रपति चुनाव जीतने पर न तो डोनाल्ड ट्रंप और न ही मेलानिया खुश थे. यहां तक कि जैसे ही ये साफ हुआ कि ट्रंप चुनाव जीत गए हैं, तो मेलानिया फूट-फूटकर रोई थीं. ये आंसू उनकी खुशी के नहीं बल्कि दुख के थे. डोनाल्ड ट्रंप भी चुनाव में जीत की खबर सुन सन्न रह गए थे. ये सभी दावे प्रकाशक स्टीव रूबिन और लेखक माइकल वोफ की डोनाल्ड ट्रंप पर लिखी किताब 'फायर एंड फ्यूरी: इनसाइड ट्रंप व्हाइट हाउस' में किए गए हैं.

हार की थी सभी को उम्मीद
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, डोनाल्ड ट्रंप की पत्नी मेलानिया के साथ ही उनकी पूरी टीम को यकीन था कि वे डेमोक्रेटिक उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन से हार जाएंगे. लेकिन जब नतीजे आना शुरू हुए और ये साफ हो गया कि ट्रंप ही अमेरिका के नए राष्ट्रपति बनेंगे तो मेलानिया फूट-फूटकर रोने लगीं.

इसलिए रो दी थीं मेलानिया
दरअसल, मेलानिया वापिस अपनी आम जिंदगी में लौटना चाहती थीं, जो ट्रंप की हार से ही संभव था, लेकिन ऐसा नहीं हो पाया. इस वजह से मेलानिया, डोनाल्ड ट्रंप के जीतने की बात सुन खुद को रोने से रोक नहीं सकीं.

सफेद पड़ गया था ट्रंप का चेहरा
वहीं किताब में ये भी दावा किया गया है, कि ट्रंप के बेटे ने जीत की खबर सुन उनके पिता के रिएक्शन के बारे में दोस्त को बताया था. डोनाल्ड ट्रंप जूनियर ने दोस्त को कहा था, जब ट्रंप को इसका एहसास हुआ कि वे सच में राष्ट्रपति बनने जा रहे हैं तो उनका चेहरा ऐसा सफेद पड़ गया था, जैसे उन्होंने भूत देख लिया हो.

किताब में हुए हैं ये भी खुलासे
किताब 'फायर एंड फ्यूरी: इनसाइड ट्रंप व्हाइट हाउस' में डोनाल्ड ट्रंप से जुड़े और भी कई चौंकाने वाले खुलासे किए गए हैं. जिनमें उनके शपथ ग्रहण समारोह से लेकर खाने से जुड़ी बातें शामिल हैं.

* डोनाल्ड ट्रंप अपने शपथ ग्रहण समारोह के दिन बिल्कुल भी खुश नहीं थे.
* ट्रंप जहरखुरानी के डर के चलते मैकडॉनल्ड्स का फास्ट फूड खाते हैं.
* व्हाइट हाउस डोनाल्ड ट्रंप को काफी डरावना लगा, जिसके बाद उन्होंने अपने कमरे के लिए खास ताले की मांग की.
* डोनाल्ड ट्रंप पढ़ते नहीं हैं. वे अल्प शिक्षित हैं.
* पूर्व राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार माइक फ्लिन को उनके दोस्तों ने भाषण के बदले रूस से पैसे नहीं लेने की चेतावनी दी थी.

ट्रंप चाहते हैं पुस्तक का रुके प्रकाशन
अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने उनके प्रशासन की आलोचना करने वाली पुस्तक के प्रकाशकों से इसे प्रकाशित करने से तत्काल रोकने की मांग की है. उन्होंने व्हाइट हाउस के पूर्व मुख्य रणनीतिकर्ता स्टीव बेनन की इसी पुस्तक के संदर्भ में तीखी आलोचना की थी.

अधिक विदेश की खबरें

रूसी राष्‍ट्रपति व्‍लादिमीर पुतिन, डोनाल्‍ड ट्रंप जैसे नेताओं को इंतजार क्‍यों करवाते हैं?..

फिनलैंड की खूबसूरत राजधानी हेलसिंकी में पिछले दिनों अमेरिकी राष्‍ट्रपति और रूसी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप की मुलाकात ......