जेम्स पी एलिसन और तसुकु होंजो को मिला चिकित्सा का नोबेल, कैंसर थेरेपी के लिए किया काम
File Photo


इस साल के नोबेल पुरस्कार के लिए सोमवार को पहली घोषणा हुई. अमेरिकी वैज्ञानिक जेम्स पी एलिसन और जापानी वैज्ञानिक तसुकु होंजो को संयुक्त रूप से साल 2018 के लिए चिकित्सा का नोबेल पुरस्कार दिया जाएगा.

कैंसर की दुर्लभ बीमारी की इलाज के लिए दोनों वैज्ञानिकों ने ऐसी थेरपी विकसित की है, जिससे शरीर की कोशिकाओं में इम्यून सिस्टम को कैंसर ट्यूमर से लड़ने के लिए मजबूत बनाया जा सकेगा.

एलिसन टेक्सास यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर हैं वहीं होंजो क्योटो यूनिवर्सिटी में प्रोफेसर हैं. होंजो को 2014 में एशिया प्रतिष्ठित पुरस्कार 'तंग प्राइज' से सम्मानित किया जा चुका है.

दोनों को प्रसिद्ध वैज्ञानिक अल्फ्रेड नोबेल की पुण्यतिथि 10 दिसंबर को नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा. इन दोनों को नोबेल पुरस्कार के तहत लगभग 10.1 लाख अमेरिकी डॉलर मिलेंगे.

महान वैज्ञानिक अल्फ्रेड नोबेल की याद में नोबेल पुरस्कार शुरू किए गए. हर साल 'रॉयल स्वीडिश एकेडमी ऑफ साइंसेस', 'द स्वीडिश एकेडमी', 'द कारोलिंस्का इंस्टीट्यूट' और 'द नॉर्वेजियन नोबेल कमिटी' द्वारा उन लोगों और संस्थाओं को दी जाती है, जिन्होंने अर्थशास्त्र, भौतिकशास्त्र, रसायनशास्त्र, चिकित्साशास्त्र, साहित्य और शांति के क्षेत्र में उल्लेखनीय योगदान दिया हो. इसके तहत हर विजेता को एक मेडल, एक डिप्लोमा, एक मोनेटरी अवॉर्ड दिया जाता है.

हालांकि, इस बार साहित्य का नोबेल पुरस्कार नहीं दिए जाने का फैसला किया गया है. पिछले 70 साल में पहली बार ऐसा है कि साहित्य का नोबेल पुरस्कार नहीं दिया जाएगा.

अधिक विदेश की खबरें