फ्लाइट में खोया पर्स, सरप्राइज गिफ्ट के साथ मिला वापस
File Photo


डिजिटल जमाने में पेन-पेपर पर लिखे हुए नोट या चिट्ठी बहुत स्पेशल होते हैं. पेपर पर लिखे हुए नोट अपनेपन का अहसाल दिलाते हैं. ऐसा ही कुछ हुआ अमेरिका के हंटर शमैट के साथ जिनका पर्स खो गया था. यह पर्स जिसे मिला उसने इसे सही सलामत वापस तो भेजा ही लेकिन इसके साथ एक तोहफा भी भेजा.

दरअसल, हंटर कुछ समय पहले अपनी बहन की शादी के लिए लास वेगस गए थे. लेकिन वहां उन्हें पता चला कि उनका पर्स बीच रास्ते में गायब हो गया. हंटर की मां जीनी शमैट ने एक फेसबुक पोस्ट में बताया कि इसमें 60 डॉलर कैश, 400 डॉलर का एक पेचेक, डेबिट कार्ड और आईडी कार्ड था. बहन की शादी होने के कारण हंटर ने इस बारे में ज्यादा न सोचने का फैसला किया और अपने पैरेंट्स से पैसे उधार लिए.

वाशिंगटन पोस्ट की एक रिपोर्ट के मुताबिक हंटर ने बताया कि पर्स के साथ अपनी आईडी  कार्ड खोने से वे काफी परेशान हो गए. उन्हें लगा था कि उनका पर्स शायद फ्लाइट में गिर गया है और अब कभी नहीं मिलेगा. उनके परिवार ने मामले की जानकारी फ्रंटियर फ्लाइट को दी, लेकिन विमान कंपनी ने ऐसे किसी भी पर्स के मिलने से इनकार कर दिया.

बहन की शादी के बाद जब हंटर लास वेगस से वापस ओमाहा जा रहे थे, तो आईडी कार्ड नहीं होने की वजह से उन्हें एयरपोर्ट पर काफी परेशान होना पड़ा. एक घंटे की पूछताछ के बाद हंटर को फ्लाइट से जाने की इजाजत मिल गई.

हंटर ने बताया कि जब वो अपने घर पहुंचे उसके एक दिन बाद उन्हे एक पार्सल मिला. इस पार्सल में हंटर का पर्स पूरे सामान के साथ रखा हुआ था और इसके साथ ही इसमें एक चिट्ठी भी थी. इसपर लिखा हुआ था....

मुझे तुम्हारा पर्स ओमाहा से वेगास जाने वाली फ्रंटियर फ्लाइट में 12वीं लाइन की सीट एफ और दीवार के बीच मिला था. मुझे लगा तुम्हे इसकी जरूरत होगी. ऑल द बेस्ट.

मैंने तुम्हारे 60 डॉलर कैश को राउंड फिगर में करते हुए 100 डॉलर कर दिया है, ताकि जब तुम्हें पर्स मिले तो तुम इस खुशी में पार्टी कर सको. मजे करना''

पर्स वापस मिलने से हंटर और उसका परिवार काफी खुश हुए और इसे लौटाने वाले व्यक्ति को मिलकर शुक्रिया कहना चाहते थे. इसलिए हंटर की मां ने इस चिट्ठी को फेसबुक पर शेयर करते हुए एक पोस्ट लिखी, 'अगर हम व्यक्ति को ढूंढ सकें तो व्यक्तिगत रूप से उस व्यक्ति को शुक्रिया कहना चाहते हैं. कृपया इस पोस्ट को शेयर कर उस व्यक्ति को ढूंढने पर हमारी मदद करें.'

सोशल मीडिया पर अनजान व्यक्ति के इस कदम की काफी सराहना हो रही है. काई यूजर्स ने इस पर कमेंट भी किया और कुछ ही दिनों में सोशल मीडिया की मदद से शमैट परिवार ने पर्स लौटाने वाले व्यक्ति को ढूंढ लिया. शख्स का नाम टौड ब्राउन है. ब्राउन के साथ काम करने वाले एक व्यक्ति ने उन्हें ढूंढने में मदद की.

अधिक विदेश की खबरें