चीन की वो मिसाइल जो भारत के किसी भी शहर को कर सकती है तबाह
file photo


चीन की सेना ने हाल ही में डीएफ-26 इंटरमीडिएट बैलिस्टिक मिसाइल से टेस्ट फायर किया. इस मिसाइल का निक नेम गुआम किलर (Guam killer) है. चीनी मीडिया के मुताबिक, मिसाइल का टेस्ट जिस चीन के नॉर्थ-वेस्ट इलाके में हुआ उस जगह का नाम गुप्त रखा गया है.

चीन की सरकार ने बीजिंग से की घोषणा में बताया कि उन्होंने इस महीने की शुरुआत में मिसाइल को एक रेगिस्तानी इलाके में तैनात किया था. डीएफ-26 मिसाइल यानी ‘गुआम किलर’ चार हजार किलोमीटर दूर तक हमला कर सकती है. 

चीन की इस मिसाइल की मारक क्षमता ज्यादा से ज्यादा 5,500 किलोमीटर तक है. जबकि चीनी सीमा से लगे भारतीय राज्य अरुणाचल प्रदेश की चीन से दूरी 1232.51 किलोमीटर के करीब है. वहीं कश्मीर से तमिलनाडु की दूरी की सिर्फ 2530.39 किलोमीटर है. 

चीन इसे पहली बार दुनिया के सामने सितंबर 2015 में बीजिंग में सैन्य शक्ति प्रदर्शन के दौरान लाया था. चीन की बढ़ती ताकत को देखकर माना जा रहा है कि जब वो अमेरिका को आंखें दिखाता है, तो पड़ोसियों भारत, वियतनाम, जापान, फिलीपींस, ताइवान को भी अकड़ दिखा सकता है.

सैनिकों की बात करें तो चीन के पास दुनिया की सबसे बड़ी सेना है. चीन के पास 22 लाख 85 हजार सशस्त्र सैनिक हैं, तो 5 लाख 10 हजार रिजर्व सैनिक भी हैं. यही नहीं अर्धसैनिक बलों के रूप में चीन के पास 6 लाख 60 हजार सैनिक हैं. 

चीन के रक्षा जानकार इस मिसाइल के जिक्र में कह चुके हैं कि ये अमेरिका के पेसेफिक आइलैंड तक हमला कर सकती है. इस मिसाइल को 'गुआम किलर' इसलिए कहा जा रहा है क्योंकि यह अमेरिका के गुआम द्वीप तक मार करने में सक्षम है. 

डीएफ-26 इंटरमीडिएट बैलिस्टिक मिसाइल की मारक क्षमता के मुताबिक कहा जा रहा है कि प्रशांत महासागर में स्थित अमेरिका का गुआम द्वीप भी इसकी जद में आसानी से आ सकती है.

कई विदेशी अखबारों ने का कहना है कि चीन की इस मिसाइल की ताकत ये दिखाती है कि वह अमेरिका के सैन्य अड्डों और विमानवाहक पोतों को खतरे में डालने की क्षमता रखता है. 

अधिक विदेश की खबरें