रक्षा बजट में कटौती करेगा पाकिस्तान,  इमरान ने की तारीफ
महा आर्थिक संकट से जूझ रहे पाकिसतान ने इस साल अपने रक्षा बजट में कटौती करने का फैसला किया है।


इस्लामाबाद  (हि.स.)। महा आर्थिक संकट से जूझ रहे पाकिसतान ने इस साल अपने रक्षा बजट में कटौती करने का फैसला किया है। सरकार रक्षा क्षेत्र में होने वाले खर्च को बचाकर बलूचिस्तान के पिछड़े कबिलाई इलाके के विकास पर ध्यान देगी। यह जानकारी बुधवार को मीडिया रिपोर्ट से मिली।
 
पाकिस्तानी सेना का कहना है कि वह एक साल के लिए अपने बजट में स्वैच्छिक कटौती कर रही है जो देश की सुरक्षा की कीमत पर नहीं की जा रही है। पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने ट्वीट कर कहा है,” सालभर के लिए रक्षा बजट में स्वैच्छिक कटौती सुरक्षा की कीमत पर नहीं की गई है। हम सभी तरह के खतरों से निपटने में सक्षम हैं। यह महत्वपूर्ण है कि हम कबीलाई क्षेत्रों और बलूचिस्तान के विकास  पर ध्यान दे रहे हैं। “
 
उधर, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने अपनी सेना के इस फैसले की सराहना की है। उन्होंने ट्वीट कर कहा है, “ हमारी आर्थिक हालत खराब है और कई मोर्चों पर हम सुरक्षा चुनौतियों से जूझ रहे हैं, इसके बावजूद पाकिस्तानी सेना की अगले वित्त वर्ष के दौरान रक्षा व्यय में स्वैच्छिक कटौती के फैसला की मैं सराहना करता हूं।  हमारी सरकार इस धन का इस्तेमाल कबीलाई क्षेत्रों और बलूचिस्तान के विकास में करेगी।“
 
 विदित हो कि कि आर्थिक मोर्चे पर परेशान पाकिस्तान की इमरान सरकार की मुश्किलें कम नहीं हो रही हैं। हाल में विश्व बैंक ने कहा था कि पाकिस्तानी अर्थव्यवस्था की हालत अभी और खराब होगी और वित्त वर्ष 2019-20 के दौरान उसकी विकास दर गिरकर 2.7 प्रतिशत रह जाएगी और महंगाई दर साल 2020 में बढ़कर  13.5 प्रतिशत तक पहुंच सकती है।

अधिक विदेश की खबरें