अयोध्या केस : सुप्रीम कोर्ट के फैसले से तिलमिलाया पाकिस्‍तान, कही ये बड़ी बात
पाकिस्तान के मानवाधिकार मंत्री शिरीन मजारी ने भी फैसले के समय पर सवाल उठाया.


इस्लामाबाद : अयोध्या के राम मंदिर मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने भारत पर तंज कसते हुए कहा कि 'यह फैसला पहले से ही दबे-कुचले मुस्लिम समुदाय पर और अधिक दबाव डालेगा.' आज (शनिवार) को भारतीय सुप्रीम कोर्ट की पांच न्यायाधीशों की संवैधानिक पीठ ने आदेश दिया कि विवादित भूमि मंदिर बनाने के लिए हिंदुओं को दी जानी चाहिए, जबकि मुस्लिम समुदाय को मस्जिद बनाने के लिए पांच एकड़ वैकल्पिक भूमि दी जाएगी. 


​कुरैशी ने पाकिस्तान के एक निजी चैनल से बात करते हुए कहा कि, "भारतीय सुप्रीम कोर्ट के फैसले से पहले से ही दबाए गए मुस्लिम समुदाय पर अधिक दबाव पड़ेगा." उन्होंने कहा, "पाकिस्तान विदेश कार्यालय फैसले का विवरण पढ़ने के बाद इस मामले पर आधिकारिक बयान जारी करेगा."


​बता दें कि पाकिस्तान के वैदेश मंत्री कुरैशी ने फैसले के समय पर भी सवाल उठाया, उन्होंने कहा है कि यह ऐतिहासिक करतारपुर गलियारे के उद्घाटन के साथ मेल खाता है. यह गलियारा हजारों भारतीय सिख तीर्थयात्रियों के लिए पाकिस्तान में दरबार साहिब गुरुद्वारा जाने का मार्ग प्रशस्त करेगा.


कुरैशी ने सवाल करते हुए कहा, "भारतीय सुप्रीम कोर्ट ने लंबे समय के बाद आज (शनिवार) फैसले की घोषणा की. भारतीय अदालत ने आज फैसले की घोषणा क्यों की?" पाकिस्तान के मानवाधिकार मंत्री शिरीन मजारी ने भी फैसले के समय पर सवाल उठाया.

(देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं)


अधिक विदेश की खबरें