मई में हो सकती है मोदी-ट्रंप की पहली मुलाकात
मई में हो सकती है मोदी-ट्रंप की पहली मुलाकात


वॉशिंगटन : भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच मई में वॉशिंगटन में पहली मुलाकात हो सकती है।दोनों सरकारें पीएम मोदी की अमेरिकी यात्रा को लेकर प्लानिंग कर रही हैं। इसके अलावा, दोनों नेताओं की मुलाकात अगले जी-20 समिट के इतर भी हो सकती है। यह समिट जुलाई में हैम्बर्ग में होगी।सूत्रों के मुताबिक दोनों ही सरकारें द्विपक्षीय वार्ता के लिए उत्सुक हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति बनने के ठीक 4 दिन बाद ट्रंप ने मोदी से फोन पर बात की थी। इस दौरान दोनों के बीच आतंकवाद और इकोनॉमी जैसे कई मुद्दों पर बातचीत हुई। साथ ही ट्रंप ने भारत को अपना सच्चा दोस्त बताया।बता दें कि 20 जनवरी को राष्ट्रपति बनने के 4 दिन बाद ट्रंप ने मोदी से पहले सिर्फ 4 वर्ल्ड लीडर को फोन किया था। मोदी पांचवें लीडर थे। ये बताता है कि भारत ट्रंप एडमिनिस्ट्रेशन की फॉरेन पॉलिसी में टॉप-10 में शामिल है।पी।एम मोदी ने भी ट्रंप को राष्ट्रपति चुनाव में जीत के बाद फोन कर बधाई दी थी। इतना ही नहीं ट्रंप ने अपने कैंपेन के दौरान भारतीय-अमरीकियों के एक प्रोग्राम में मोदी की तारीफ की थी। ट्रंप ने कहा था, अगर मैं राष्ट्रपति चुना गया तो भारत और अमेरिका गहरे दोस्त होंगे और दोनों का बेहतर भविष्य होगा। नरेंद्र मोदी एनर्जेटिक हैं। वे ग्रोथ लाने वाले लीडर हैं। उनके साथ मिलकर काम करना चाहता हूं।भारत में दुनिया की सबसे बड़ी डेमोक्रेसी है। वह अमेरिका का पुराना सहयोगी रहा है। ट्रंप एडमिनिस्ट्रेशन के तहत दोनों देशों के रिलेशन और बेहतर होंगे। दोनों देश एक-दूसरे के करीबी दोस्त होंगे।

अधिक विदेश की खबरें