चीन ने की अमेरिका और उत्तर कोरिया से टकराव से बचने की अपील
सोल और वाशिंगटन ने अपना सालान संयुक्त सैन्य अभ्यास शुरू किया है, जिससे हमेशा ही प्योंगयांग खफा रहता है।


बीजिंग: चीन ने अमेरिका और उत्तर कोरिया को टकराव से बचने की अपील की है। चीन ने कोरियाई प्रायद्वीप पर बढ़ते तनाव के बीच अमेरिका-दक्षिण कोरिया संयुक्त सैन्य अभ्यास पर रोक लगाने के लिए उत्तर कोरिया से अपनी परमाणु और मिसाइल गतिविधियों को निलंबित करने की अपील की है

चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने कहा, ‘‘कोरियाई प्रायद्वीप पर मंडरा रहे संकट को कम करने के लिए चीन का प्रस्ताव है कि पहले उत्तर कोरिया अपने परमाणु और मिसाइल गतिविधियों को निलंबित करे और बदले में अमेरिका-दक्षिण कोरिया अपने सैनिक अभ्यास पर रोक लगाए।’’ वांग ने चीन की सालाना संसद सत्र से इतर एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, ‘‘दोनों ही पक्ष तेज गति से एक दूसरे के नजदीक आती ऐसी ट्रेनों की तरह हैं, जो एक दूसरे को रास्ता देने के लिए तैयार नहीं हैं।’’

‘‘सवाल यह है कि क्या दोनों ही पक्ष टकराव के लिए तैयार हैं? हमारी प्राथमिकता अभी रेड लाइट दिखाना और दोनों ही ट्रेनों पर ब्रेक लगाना है।’’ प्योंगयांग ने सोमवार को समुद्र में जापान की दिशा में चार मिसाइल दागे, इनमें से तीन रॉकेट जापान के विशिष्ट आर्थिक क्षेत्र में गिरे थे।

सोल और वाशिंगटन ने अपना सालान संयुक्त सैन्य अभ्यास शुरू किया है, जिससे हमेशा ही प्योंगयांग खफा रहता है। अमेरिका ने कहा है कि उसने उत्तर कोरिया की दिशा की तरफ मिसाइल रोधी तंत्र की तैनाती शुरू कर दी है जिसे बीजिंग ने अपने सुरक्षा हितों के लिए धमकी के तौर पर लिया है।

वांग ने अपने प्रस्ताव के बारे में कहा, ‘‘निलंबन के बदले में निलंबन हमें सुरक्षा संकट को समाप्त करने में मदद करेगा और दोबारा सभी पक्षों को बातचीत के लिए साथ लाएगा।’’

अधिक विदेश की खबरें