पीओके में भारतीय खुफिया एजेंसी के तीन संदिग्ध एजेंट गिरफ्तार: रिपोर्ट
पुलिस ने दावा किया है कि उसने राज्य विरोधी गतिविधियों में संलिप्तता के आरोप में रॉ के तीन संदिग्ध एजेंट को गिरफ्तार किया है।


इस्लामाबाद : पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर की पुलिस ने दावा किया है कि उसने राज्य विरोधी गतिविधियों में संलिप्तता के आरोप में रॉ के तीन संदिग्ध एजेंट को गिरफ्तार किया है। डॉन समाचारपत्र ने खबर दी है कि रावलकोट में एक ब्रीफिंग के दौरान मीडिया के सामने संदिग्धों को मास्क लगा कर पेश किया गया। रिपोर्ट के मुताबिक, ये तीनों पीओके में अब्बासपुर के तरोती गांव निवासी हैं।

पुंछ में पुलिस उपायुक्त डीएसपी साजिद इमरान ने बताया कि मुख्य संदिग्ध खलील नवंबर 2014 में कश्मीर गया थाा जहां वह रिसर्च एंड एनालिसिस विंग रॉ अधिकारियों के संपर्क में आया। इमरान ने बताया कि तीनों संदिग्ध सितंबर में अब्बासपुर में एक थाने के बाहर बम विस्फोट में शामिल थे। उन्होंने कथित तौर पर वहां एक इम्प्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस :आईईडी: रखा था।

डीएसपी ने दावा किया कि इस काम के लिए खलील को पांच लाख रपए दिए गए थे। रिपोर्ट में कहा गया है कि पुलिस को विस्फोट में उनके शामिल होने को लेकर सर्तक किया गया था। एक व्यक्ति ने कहा था कि उसने तीनों को अब्बासपुर में 26 सितंबर की रात सामान रखने वाले एक बैग के साथ देखा था। इमरान ने बताया कि संदिग्धों के खिलाफ आतंक-विरोधी अधिनियम एटीए और विस्फोटक अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है।



अधिक विदेश की खबरें