5.70 लाख रूपये का क्रेडिट कार्ड का ऋण हर अमेरिकी पर
लापरवाही से ज्यादा बैंकों के मनमाने नियम और मोटी फीस है।


वाशिंगटन : बढ़ती आर्थिक असमानता और स्थिर कमाई के कारण आम अमेरिकी क्रेडिट कार्ड के कर्ज में डूबते जा रहे हैं। निजी फाइनेंस वेबसाइट वैलेटहब की रिपोर्ट के अनुसार, पिछले 30 सालों की तुलना में क्रेडिट कार्ड के कर्ज में रिकॉर्ड बढ़ोतरी हुई है। रिपोर्ट के मुताबिक हर अमेरिकी परिवार पर 8500 डॉलर का क्रेडिट कार्ड का ऋण है, जो 5 लाख 70 हजार रुपए के करीब है।

वर्ष 2016 के अंत तक अमेरिकियों पर क्रेडिट कार्ड का कर्ज एक लाख करोड़ रुपए पार कर जाने का अनुमान है। 2016 की दूसरी तिमाही में क्रेडिट कार्ड का कर्ज 34.4 अरब डॉलर (2304 अरब रुपए) बढ़ गया। वर्ष 1986 की दूसरी तिमाही के बाद यह क्रेडिट कार्ड के कर्ज में सबसे बड़ा उछाल है। रिपोर्ट में कहा गया है कि कर्ज में रिकॉर्ड बढ़ोतरी क्रेडिट कार्ड उपभोक्ताओं की लापरवाही से ज्यादा बैंकों के मनमाने नियम और मोटी फीस है।

पूर्व डेमोक्रेट सीनेटर और नीति विश्लेषक एमी ट्रॉब ने कहा कि निम्न और मध्यम आय वर्ग के परिवार शिक्षा, संपत्तियों के दाम गिरने, बीमा प्रीमियम बढऩे और नौकरी खोने जैसे कारणों से परेशान हैं। इस कारण क्रेडिट कार्ड से कर्ज लेने का दायरा बढ़ रहा है। 2008 की मंदी से कंपनियों की खस्ता हालत का असर कर्मचारियों पर भी पड़ा है। क्रेडिट कार्ड कंपनियां फीस बढ़ाकर लोगों की आर्थिक तंगी का फायदा उठा रही है।

अधिक विदेश की खबरें

पाक सेना के टॉप ऑफिसर्स के साथ इमरान खान की हाईलेवल मीटिंग, भारत से लगी पूर्वी सीमा का हुआ जिक्र..

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने सेना, वायुसेना और नौसेना के शीर्ष अधिकारियों के साथ देश के ......