पनामा पेपर्स: जांच दल के सामने पेश हुए पाकिस्तान के PM नवाज शरीफ
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ पमानागेट घोटाला की जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित दल के सामने पेश हुए।


इस्लामाबाद : पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ पमानागेट घोटाला की जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित दल के सामने पेश हुए। वह पाकिस्तान के पहले प्रधानमंत्री हैं जो पद पर रहते हुए , इस तरह के किसी आयोग के सामने पेश हुए हैं। शरीफ की बेटी मरियम नवाज ने न्यायिक अकादमी रवाना होने के पहले अपने पिता और उनके प्रमुख सहयोगियों की एक तस्वीर पोस्ट करके ट्वीट किया, 'आज के दिन ने इतिहास रच दिया है। PM ने मिसाल कायम की है।' 

संयुक्त जांच दल (JIT) के प्रमुख वाजिद जिया ने शरीफ को मामले से जुड़े सभी कागजात लेकर 6 सदस्यों के पैनल के सामने पेश किया। पेशी से पहले प्रधानमंत्री ने सुबह आपने परिवार और करीबी सहयोगियों से विचार-विमर्श किया। शरीफ ने अपने पार्टी कार्यकर्ताओं से उन्हें न्यायिक अकादमी तक साथ जाने या फिर वहां उनको लेने आने से मना किया है। मालूम हो कि शरीफ शेंघाई सहयोग संगठन (SCO) के सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए कजाकिस्तान गए थे। वहां से वापस पाकिस्तान लौटने पर उन्हें आयोग के सामने हाजिर होने का समन जारी किया गया। 

पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट ने पनामा पेपर मामले में 20 अप्रैल को JIT का गठन किया था। JIT को प्रधानमंत्री, उनके बेटे और इस मामले से जुड़े किसी भी व्यक्ति से पूछताछ करने का अधिकार है। शरीफ पर विदेशों में बेनामी संपत्ति खरीदने का आरोप है। उन्होंने इन आरोपों को खारिज करते हुए खुद को बेकसूर बताया है। JIT को 60 दिन में अपनी जांच पूरी करनी है। 

अधिक विदेश की खबरें