अमेरिका और जापान के बॉम्बर्स ने दक्षिण चीन सागर के ऊपर भरी उड़ान
सेना ने बताया कि अमेरिका और दक्षिण कोरिया के चार जेट लड़ाकू विमानों ने इस अभ्यास में हिस्सा लिया.


वॉशिंगटन : अमेरिका के दो बी-1 बमवर्षक विमानों ने विवादास्पाद पूर्वी एवं दक्षिण चीन सागर के ऊपर से उड़ान भरी. जापान के साथ संयुक्त सैन्याभ्यास के तहत यह उड़ान भरी गई. अमेरिका के रक्षा अधिकारियों ने शुक्रवार (7 जुलाई) को सीएनएन को बताया कि अमेरिका के बमवर्षकों के साथ जापान के दो एफ-15 लड़ाकू विमानों ने भी गुरुवार रात को संयुक्त सैन्याभ्यास के तहत विवादित जलक्षेत्र के ऊपर से उड़ान भरी.

इन पर जापान और चीन दोनों अपना-अपना दावा ठोकते रहे हैं. अमेरिकी प्रशांत वायुसेना की ओर से जारी बयान के मुताबिक, पहली बार अमेरिका के बी-1 बमवर्षकों ने प्रशांत कमान से इस तरह के अभियान को शुरू किया. जापान के एयर सेल्फ सुरक्षाबलों ने साफ किया कि यह मिशन विवादित जलक्षेत्र के बारे में किसी तरह का संदेश देने के लिए नहीं किया गया है.

सेना ने बताया कि अमेरिका और दक्षिण कोरिया के चार जेट लड़ाकू विमानों ने इस अभ्यास में हिस्सा लिया. यह अभ्यास दक्षिण कोरिया की आंतरिक सीमा से करीब 80 किमी दूर योंगवाल काउंटी में किया गया था.



अधिक विदेश की खबरें

ट्रम्प की इस खूबसूरत बेटी के पहले भारत आगमन पर स्वागत के लिए आएंगे विदेशी फूल, हर डिश के लिए अलग शेफ..

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बेटी इवांका ट्रंप हैदराबाद में होने जा रहे ग्लोबल इकनॉमिक समिट में ......