अपना गढ़ बचाने के लिए राहुल गांधी ने अमेठीवासियों से कह दी ये बात
कांग्रेस अध्यक्ष ने नामांकन पत्र दाखिल करने से पहले मुंशीगंज से गौरीगंज तक तीन किलोमीटर का रोड शो किया.


नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अमेठी से लोकसभा चुनाव के लिए नामांकन दाखिल करने के बाद कहा कि इस क्षेत्र से उनका प्यार और सम्मान का रिश्ता है. नामांकन के बाद राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, ''अमेठी और यहां के लोगों से, प्यार और सम्मान का वर्षों पुराना रिश्ता है. यहां की मिट्टी में एक अलग ही जज्बा है, जो न्याय के लिए लड़ने का हौसला देती है. इस प्यार और समर्थन के लिए आप सभी का धन्यवाद.'' राहुल ने यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी और बहनोई राबर्ट वाड्रा की मौजूदगी में अमेठी के जिला कलेक्ट्रेट में बुधवार को नामांकन पत्र दाखिल किया.

कांग्रेस अध्यक्ष ने नामांकन पत्र दाखिल करने से पहले मुंशीगंज से गौरीगंज तक तीन किलोमीटर का रोड शो किया. गांधी का मुकाबला भाजपा प्रत्याशी और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी से है. वह इससे पहले केरल के वायनाड से भी नामांकन दाखिल कर चुके हैं. वह तीन बार से अमेठी से लोकसभा सदस्य हैं. 2014 के आम चुनाव में बीजेपी की प्रत्याशी रहीं स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी को कड़ी टक्कर दी थी. हालांकि, ईरानी को उस चुनाव में करीब एक लाख वोटों से हार का सामना करना पड़ा था.

राहुल गांधी ने नामांकन पत्र भरने के बाद एक बार फिर राफेल मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि कुछ समय पहले प्रधानमंत्री का एक साक्षात्कार आया था जिसमें (उन्होंने) पत्रकारों से कहा गया था कि सुप्रीम कोर्ट ने क्लीन चिट दी है. अब शीर्ष अदालत ने स्पष्ट कर दिया है कि राफेल में भ्रष्टाचार हुआ है. गौरतलब है कि केंद्र को झटका देते हुए सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को राफेल मामले में अपने फैसले पर पुनर्विचार के लिये लीक दस्तावेजों को आधार बनाने की अनुमति दे दी और उन दस्तावेजों पर ‘विशेषाधिकार’ होने की केंद्र की प्रारंभिक आपत्तियों को खारिज कर दिया.

अधिक लोकसभा चुनाव 2019 की खबरें