मणिशंकर के बयान पर मोदी का करारा जवाब: नीच जाति का, काम तो ऊंचे किए
मणिशंकर के बयान पर मोदी का करारा जवाब


नई दिल्ली। गुजरात विधानसभा चुनाव को लेकर इनदिनों सियासत गर्माई हुई है। इसी कडी में राजनेता एक के बाद एक विवादित बयान दे रहे है। गुरुवार को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मणिशंकर अय्यर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल किया है। अय्यर ने प्रधानमंत्री मोदी को नीच आदमी बताते हुए कहा कि वह सिर्फ गंदी राजनीति करते हैं।

गुजरात के सूरत चुनाव प्रचार के लिए पहुंचे प्रधानमंत्री मोदी ने मणिशंकर अय्यर के बयान पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के नेता जिस तरह के शब्दों का इस्तेमाल कर रहे हैं, वह लोकतंत्र में स्वीकार्य नहीं है। उन्होंने कहा कि हमारे मूल्य मजबूत हैं। उन्होंने कहा कि हमारा जवाब बेलेट बॉक्स के जरिये आयेगा। उन्होंने कहा कि हमने इनसे ऐसे अपमान बहुत सहे हैं। मोदी ने कहा कि यह एक मुगलई मानसिकता का परिचायक है।

उन्होंने कहा कि मुझको लगता है कि ये आदमी बहुत नीच किस्म का आदमी है। इसमें कोई सभ्यता नहीं है और ऐसे मौके पर इस किस्म की गंदी राजनीति करने की क्या आवश्यकता है? दरअसल गुरुवार को पीएम मोदी ने दिल्ली में अंबेडकर भवन का उद्घाटन करते हुए कांग्रेस पर निशाना साधा था। मोदी ने इशारों में राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा कि जो बाबा साहेब का नाम लेकर वोट मांग रहे थे उन्हें आज भोले बाबा याद आ रहे हैं।

पीएम ने कहा कि देश में जो राजनीतिक दल बाबा साहेब का नाम लेकर वोट मांगते हैं उन्हें शायद यह पता नहीं होगा। खैर उन्हें आजकल सिर्फ बाबा भोले याद आ रहे हैं। उन्होंने कहा, बाबा साहेब का असर लोगों में इस कदर था कि उनके जाने के बाद उनके योगदान को मिटाने की कोशिश के बावजूद भी बाबा साहेब के विचारों को लोगों के जनमानस से नहीं हटाया जा सका।

उन्होंने कहा, बाबा साहेब के योगदान को भुलाने की कोशिश की गई लेकिन ऐसे प्रयास सफल नहीं हुए। अय्यर ने कहा, अंबेडकर जी की सबसे बड़ी ख्वाहिश थी उसको साकार करने में एक व्यक्ति का सबसे बड़ा हाथ था जवाहरलाल नेहरू का। आप इस परिवार के बारे में ऐसी गंदी बातें कहें, वह भी जब कि अंबेडकर जी की याद में बड़ी इमारत का उद्घाटन हो रहा है। मुझे लगता है कि यह आदमी बहुत नीच तरह का आदमी है। गौरतलब है कि इससे पहले अय्यर एक और बार प्रधानमंत्री मोदी के लिए आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल कर चुके हैं।


अधिक देश की खबरें