इन वजहों से टूटने जा रही है लालू यादव के बेटे तेज प्रताप और ऐश्वर्या की शादी
File Photo


बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और चारा घोटाले में जेल की सजा काट रहे लालू प्रसाद यादव के परिवार में घमासान मचा हुआ है. इसकी वजह बड़े बेटे तेज प्रताप द्वारा अपनी नई-नवेली बीवी से तलाक के लिए अदालत का दरवाजा खटखटाना है. तेज प्रताप के अटपटे बयानों ने मामला और बढ़ता जा रहा है. उन्होंने आज मीडिया से बातचीत में यहां तक कह दिया कि उनकी शादी लालू ने राजनीतिक लाभ के लिए कराई थी. ऐश्वर्या से शादी उन्हें पसंद नहीं थी. इससे परिवार का आपसी विवाद भी खुलकर सामने आ गया है.

बता दें है कि अपने छोटे भाई और बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव के साथ अपने झगड़े के लिए तेज प्रताप पहले से चर्चा में हैं. उनके इस बयान से पिता लालू से भी वैमनस्य सामने आ गया है. इन सबके बीच सबसे ज्यादा फोकस में तेज प्रताप का उबड़-खाबड़ व्यक्तित्व है. लोग महज पांच महीनों में इस हाई प्रोफाइल शादी के टूटने के कारणों की भी तलाश में हैं.

इसी साल मई में पटना के वेटरनरी कॉलेज ग्राउंड में तेजप्रताप यादव और ऐश्वर्या राय की शादी को दो प्रभुत्व वाले राजनीतिक परिवारों के मेल की तरह देखा जा रहा था. लालू यादव जहां पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल के प्रमुख हैं, वहीं ऐश्वर्या का परिवार भी राजनीतिक इतिहास रखता है. वे पूर्व मुख्यमंत्री दारोगा राय की पोती हैं. खूब धूमधाम से हुई शादी में कद्दावर राजनीतिक हस्तियां शामिल हुईं और पार्टी ने तेज-ऐश्वर्या को शिव-पार्वती की तरह आदर्श जोड़ा बताते हुए इसी आशय के पोस्टर भी बंटवाए.

शादी के बाद आरजेडी के नेता तेज ने पत्नी के साथ साइकिल पर बैठी हुई तस्वीर भी सोशल मीडिया पर शेयर की थी, जिसमें नवदंपति आंखों में आंखें डाले हुए मुस्कुरा रहे हैं. आखिरी बार ये जोड़ा लालू के इलाज के दौरान जून में उनसे मिलने मुंबई गया था, जिसके बाद से उन्हें कभी साथ नहीं देखा गया. आखिर क्या वजह हो सकती है कि शादी के चंद महीने बाद ही राजनीतिक कद रखने वाले दंपति में एक ने तलाकनामा दायर कर दिया. बता दें कि मामला एकतरफा तलाक की अर्जी का है जो कि तेजप्रताप ने डाली है. 2 नवबंर को पटना कोर्ट में पत्नी की क्रूरता को वजह बताते हुए तेजप्रताप ने अर्जी डाली. बाद में पत्रकारों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि ऐसे घुट-घुटकर नहीं जिया जा सकता. 29 नवंबर को तलाक की अर्जी पर सुनवाई शुरू होगी.

इससे पहले भी तेजप्रताप ने वैवाहिक जीवन में खटास का दुखड़ा सोशल मीडिया पर सुनाया था. फेसबुक पर एक पोस्ट में अपनी पार्टी पर भड़के इस नेता ने कहा कि लोग पार्टी के कार्यक्रमों में शामिल न होने पर उन्हें जोरू का गुलाम और सनकी कहते हैं. ऐसे लोगों को चेताते हुए उन्होंने लगभग धमकी के सुरों में लिखा कि मैं दबकर नहीं रहने वाला. हालांकि, आरजेडी नेता की इस हड़बड़ी को उनके व्यक्तित्व से जोड़कर भी देखा जा सकता है.

तेजप्रताप यादव इससे पहले भी कई बार अपने उतावलेपन और आक्रामक व्यवहार की वजह से चर्चा में रहे. साल 2017 में लालू की z+ सुरक्षा हटाने की बात पर भड़के बेटे ने कहा कि अगर उनके पिता पर आंच भी आई तो वे पीएम मोदी की चमड़ी उतरवा देंगे. जिसके बाद मचे बवाल पर तुरंत ही लालू प्रसाद ने बेटे के शब्दों पर माफी मांगी.

अपने देसी अंदाज के लिए देश-दुनिया में लोकप्रिय लालू के बड़े बेटे भी अपने ठेठ अंदाज के लिए जाने जाते हैं लेकिन ये ठेठपना उन्हें सुर्खियों से ज्यादा विवादों में रखता है. साल 2015 में वैशाली से एमएलए बनने के बाद तेजप्रताप ने बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील मोदी पर तंज कसते हुए कहा था कि सुशील को मेरी शादी की चिंता की बजाए अपने बेटे की शादी की चिंता करनी चाहिए. या फिर ऐसा तो नहीं कि उनका बेटा नपुंसक है!

एक अन्य विवादित घटना में 'सत्तू विद तेजप्रताप' कार्यक्रम के लिए जनसंपर्क के दौरान थकान होने पर तेजप्रताप एक घर में पहुंचे, चापाकल चलाकर बाल्टी में पानी भरा और आन की आन में लगभग सारे कपड़े उतारकर नहाने लगे. तेज ने इसपर हैरान हो रहे लोगों को और भी हैरानगी में डालते हुए कहा कि महुआ मेरा घर है और घर पर नहाने में भला शर्म किस बात की. फेसबुक पर बेहद सक्रिय नेता ने इसकी तस्वीर भी पोस्ट की जो काफी दिनों तक चर्चा में रही.

तेजप्रताप के व्यक्तित्व के कई पहलू उनके थोड़े कम गंभीर या राजनीतिक तौर पर कुछ कम मंजे हुए शख्स की झलक दिखलाते हैं. जैसे खुद को कृष्ण का अनन्य भक्त बनाने वाला ये नेता अक्सर श्रीपुंड लगाकर या कृष्ण की तरह वेषभूषा में अपनी तस्वीरें सोशल मीडिया पर डालता है. एकाध बार जलेबी तलते हुए अपनी तस्वीर उन्होंने फेसबुक पर डाली.

बीच-बीच में छोटे भाई तेजस्वी के साथ उनके रिश्ते में खटास की खबर भी आती रहती है. इसकी वजह है लालू का राजनीतिक गद्दी संभालने के लिए बड़े की बजाए छोटे को तरजीह देना. तेजप्रताप को ये बात परेशान करती हैं. कुछ दिनों पहले लालू की बड़ी बेटी मीसा भारती ने भी दोनों भाइयों के बीच अनबन की बात पर मुहर लगाई थी. बाद में हालांकि इस बात को पाटते हुए बड़ी बहन ने कहा कि सारे विवादों के बावजूद पार्टी एक बड़ा परिवार ही है.

बारहवीं पास तेजप्रताप ने दिल्ली विश्वविद्यालय से ग्रेजुएट ऐश्वर्या के साथ वैवाहिक रिश्ते की शुरुआत भले ही शिव-पार्वती के जोड़े की तरह की हो, लेकिन चंद महीनों में ही अलगाव की पहल एकदम अलग दिशा की ओर इशारा करती है.



अधिक देश की खबरें

आर्म्स एक्ट में फरार बिहार की पूर्व मंत्री मंजू वर्मा ने किया सरेंडर, बुर्का पहन कर पहुंचीं कोर्ट..

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस की आरोपी बिहार की पूर्व मंत्री मंजू वर्मा ने आर्म्स एक्ट से जुड़े ......