टैग:mp#,building#,indaur#,Four-storey
मप्र : विस्फोट होते ही ढह गई चार मंजिला अवैध इमारत
ग्रीन बेल्ट पर बनाई थी, निगम ने विस्फोटक लगाकर गिराया


इंदौर: इन दिनों नगर निगम द्वारा अवैध इमारतों और दुकानों को ध्वस्त करने की कार्रवाई की जा रही है। इसी कड़ी में मंगलवार केा कल्पकामधेनु नगर में ग्रीन बेल्ट की जमीन पर बनी चार मंजिला अवैध इमारत को गिराने की कार्रवाई की गई। इसके लिए सोमवार को बारूद लगाया गया और मंगलवार को धमाके के साथ यह अवैध इमारत ध्वस्त कर दी गई। 


विस्फोट विशेषज्ञ शरद सरवटे ने तीन दिन पहले इस इमारत का मौका मुआयना कर लिया था। इसके बाद कार्रवाई आरंभ की गई। सोमवार को केवल एक विस्फोट किया गया था, बाकी काम मंगलवार की दोपहर में किया गया। एक ही धमाके में पूरी बिल्डिंग ध्वस्त हो गई। कल्पकामधेनु नगर में बने 29-ए प्लॉट पर करीब सालभर पहले से चार मंजिला इमारत का निर्माण किया जा रहा था। इस भवन के मालिक हरमिंदर होरा व मंजीत कौर होरा हैं। निगम द्वारा निर्माणाधीन इमारत को अवैध घोषित कर तोडऩे की कार्रवाई करीब पांच महीने से चल रही थी। बिल्डिंग मालिक को अब तक करीब 10 नोटिस जारी किए जा चुके हैं। सात जुलाई को आखिरी नोटिस दिया गया था। मंगलवार को विस्फोट के कारण आसपास के लोगों को दिक्कत नहीं आये, इसके लिए भी विशेष प्रबंध किए गए थे।

दो नेताओं के टकराव में जमींदोज हो गई इमारत
कल्पकामधुने नगर में बनी अवैध इमारत नेताओं के अहंकार में बनी भी और ध्वस्त भी हो गई। भवन बनने से लेकर अभी तक एक नेता का संरक्षण रहा। संरक्षण ऐसा की अधिकारी भी मौन रहे और नोटिस पर नोटिस देकर चुप्पी साधते रहे। इसी बीच दूसरे नेता को इसकी जानकारी लगी तो वे इसे तुड़वाने पर आ गए और अंतत: तुड़वाने वाले नेता ही भारी पड़े। दो कांग्रेस नेताओं की आपसी प्रतिस्पर्धा अवैेध भवन निर्माता को इतनी भारी पड़ गई कि मंगलवार को इमारत जमींदोज हो गई। दोनों ही नेता मुख्यमंत्री के करीबी हैं। 


अधिक देश की खबरें