पुलिस की नौकरी छोड़ भाजपा में शामिल हुई दंगल गर्ल बबीता फोगाट
फौगट बहनें और उनके पिता कई बार सार्वजनिक मंचों पर सरकार की अलोचना कर चुके हैं।


चंडीगढ़ : देश में महिला कुश्ती को नई पहचान दिलाने वाली 'दंगल गर्ल' बबीता फौगाट ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की नीतियों से प्रभावित से होकर हरियाणा पुलिस के इंस्पेक्टर पद को त्यागकर नई राह अपना ली।  वह अपने पिता द्रोर्णाचार्य अवार्डी महावीर फौगाट के साथ भाजपा में शामिल हो गईं। महावीर फौगाट ने भी जननायक जनता पार्टी के खेल प्रकोष्ठ के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया। 

फौगट बहनें और उनके पिता कई बार सार्वजनिक मंचों पर सरकार की अलोचना कर चुके हैं। मगर सोमवार को दोनों ने सरकार की जमकर तारीफ की। दिल्ली स्थित भाजपा मुख्यालय में केंद्रीय खेलमंत्री किरण रिजिजू, भाजपा प्रभारी अनिल जैन और प्रदेशाध्यक्ष सुभाष बराला की मौजूदगी में पिता-पुत्री ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। बबीता को भाजपा  दादरी या बाढड़ा विधानसभा क्षेत्र से उम्मीदवार बना सकती है। फौगाट परिवार का ताऊ देवीलाल के परिवार से नजदीकी रिश्ता रहा है। इनेलो में दोफाड़ के बाद वह  दुष्यंत चौटाला के साथ हो गए थे।  

रिजिजू ने कहा है कि महावीर देश के लिए मिसाल हैं। उन्होंने देश के लिए चैंपियन बनाए हैं। बबीता युवा हैं और किसी परिचय की मोहताज नहीं है। उन्होंने विश्व में भारत का मान बढ़ाया है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि वह भाजपा में मैरीकॉम की तरह खेल सकती हैं। मैरीकॉम सांसद बनने के बाद भी खेल से जुड़ी हैं। बबीता के टैलेंट का इस्तेमाल खेल मंत्रालय में किया जाएगा।

पहलवान महावीर फौगाट और बबीता फौगाट भाजपा में शामिल हो सकते हैं, यह अंदाजा किसी को नहीं था। हालांकि बबीता ने पांच अगस्त को ट्वीट करके मोदी सरकार के अनुच्छेद 370 को समाप्त करने के फैसले का स्वागत किया था। बबीता ने कहा था, देश की आजादी देखने का मुझे सौभाग्य नहीं मिला। कश्मीर को 370 और 35ए से मुक्ति मिल जाए यह मेरा परम सौभाग्य होगा। भारत माता की जय। एक अन्य ट्वीट में उन्होंने हरियाणवी भाषा में कहा था कि लठ गाड़ दिया, धुम्मा ठा दिया। 

बबीता ने दो दिन पहले मुख्यमंत्री मनोहर लाल के कश्मीरी लड़कियों के संबंध में दिए गए बयान पर मचे बवाल के बाद ट्वीट किया था-हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जी ने ऐसा कोई बयान नहीं दिया है, जिसमें हमारी बहन-बेटियों के बारे में गलत बोला गया हो,मेरी मीडिया से प्रार्थना है कि उनके बयान को गलत तरीके से जनता के सामने पेश न करें।

चरखी दादरी जिले के बलाली गांव में रहने महावीर फोगाट उस शख्शियत के तौर पर जाने जाते हैं, जिन्होंने हरियाणा में विरोध के चलते लड़कियों को घर से बाहर निकलकर कुछ करने को जज्बा सिखाया। महावीर फौगाट ने अपनी चारो बेटियों गीता फोगाट, बबीता फोगाट, रितु फोगाट और संगीता फोगाट के साथ-साथ अपने भतीजी विनेश फोगाट और प्रियंका को भी इंटरनेशनल रेसलर बना उस मुकाम तक पंहुचाया जहां पूरा देश उन पर गर्व करता है। विदेशों में इन्हीं के नाम से चरखी दादरी के बलाली गांव की पहचान बन चुकी है। अभिनेता आमिर खान, महावीर फोगाट, गीता और बबीता पर केंद्रित फिल्म दंगल बना चुके हैं।  इस फिल्म में आमिर ने  महावीर का किरदार निभाया था।


अधिक देश की खबरें