कैसे हुआ था पुलवामा हमला, खून से सनी थी सड़क और मंजर देख दहल उठा था देश
खून से सनी थी सड़क और मंजर देख दहल उठा था देश


आज जम्मू कश्मीर के पुलवामा हमले को एक साल बीत गया, लोग आज भी वो दिन नहीं भूले जब उनकी टीवी स्क्रीन पर जवानों के शव दिखाये जा रहे थे, खून से सनी सड़क दिखाई जा रही थी और उस मंजर को देखकर देश दहल उठा था। 


खून से सनी थी सड़क और मंजर देख दहल उठा था देश

आपको याद होगा इस हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे। द हिंदू के मुताबिक मामले की जांच कर रही एनआईए अब तक यह पता नहीं लगा पाई है कि इस भयानक आतंकी हमले के लिए विस्फोटक कहां से आया था। 


कैसे हुआ था पुलवामा हमला

इस हमले में एक आतंकी ने विस्फोटकों से भरी एक गाड़ी को सीआरपीएफ के काफिले से टकरा दिया था। धमाका इतना ज़ोरदार था कि एक बस के टुकड़े-टुकड़े हो गए थे। यह बस सीआरपीएफ की 54वीं बटालियन की थी। जैश-ए-मोहम्मद ने इस घटना की जिम्मेदारी ली थी। पुलवामा के रहने वाले आतंकवादी आदिल अहमद डार ने इस घटना को अंजाम दिया था

(देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करें, आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं)  

अधिक देश की खबरें