अमरिंदर ने सिर्फ विधायक बने रहने कहा होता तो वैसा ही करता : नवजोत सिद्धू
सिद्धू को पर्यटन और संस्कृति, अभिलेख और संग्रहालय मंत्रालय की जिम्मेदारी दी गई है।


चंडीगढ़ : पंजाब सरकार में मंत्री पद की शपथ लेने के एक दिन बाद नवजोत सिंह सिद्धू ने शुक्रवार को कहा कि अगर राज्य के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह उन्हें विधायक के रूप में काम करने के लिए भी कहते, तो वह ऐसा करते। पहले ऐसी खबर आ रही थी कि डेप्युटी सीएम का पद न मिलने पर सिद्धू नाराज हैं। सिद्धू को पर्यटन और संस्कृति, अभिलेख और संग्रहालय मंत्रालय की जिम्मेदारी दी गई है।

क्रिकेटर से नेता बने सिद्धू ने साथ ही कहा कि वह अपना टीवी शो जारी रखेंगे। पदभार ग्रहण करने के बाद उन्होंने संवाददाताओं से कहा, 'इस बात को लेकर बहुत चर्चा हुई कि सिद्धू ये बनेगा, वो बनेगा। लोगों की कामनाओं और इरादों के लिए मैं उनका शुक्रगुजार हूं। हालांकि, मैं इन चीजों से हमेशा दूर रहा।'

उनको उपमुख्यमंत्री बनाए जाने से जुड़ी अटकलों के बारे में पूछे जाने पर सिद्धू ने कहा, 'अगर कैप्टन (अमरिंदर सिंह) मुझे विधायक के रूप में काम करने को भी कहते तो मैं वैसा करता।' उन्होंने कहा, 'कैप्टन साहब, राहुल जी और प्रियंका जी ने मेरे लिए जो कुछ भी सोचा, मैं उससे खुश हूं और वह मेरे अनुकूल है। मैं राज्य को सही पटरी पर ले जाने के लिए आया हूं। मैं कोई निजी हित साधने के लिए यहां नहीं आया हूं।'

बीजेपी से कांग्रेस में शामिल हुए सिद्धू ने कहा कि भगवा पार्टी ने वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में उनको कुरुक्षेत्र, चंडीगढ़ और पश्चिमी दिल्ली संसदीय क्षेत्र से चुनाव लड़ने की पेशकश की थी। पूर्व क्रिकेटर ने कहा कि राज्यसभा की सीट उनके लिए मायने नहीं रखती थी और इसी कारण उनको पार्टी छोड़नी पड़ी।

उन्होंने जोर देकर कहा कि पंजाब में कांग्रेस सरकार को पहले 6 महीने सकारात्मक रुख के साथ काम करना होगा। उन्होंने कहा, 'पहले छह महीने सकारात्मक मंशा से काम करना होगा। हमें अपने काम को लेकर ईमानदार होना होगा।' मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह को पिता तुल्य बताते हुए सिद्धू ने कहा, 'अमरिंदर मेरे लिए पिता समान हैं, उन्होंने मुझे पहले 6 महीने सरकार की सकारात्मक मंशा दिखाने को कहा है।'

वहीं, खुद को जन्म से कांग्रेसी बताते हुए सिद्धू ने कहा कि मैं 3 फोन साथ लेकर चलूंगा। एक विधानसभा क्षेत्र के लोगों के लिए, दूसरा कांग्रेस एमएलए के लिए और तीसरा अमरिंदर सिंह के लिए।


अधिक देश की खबरें