जो बीफ खाते हैं  उन्हें फांसी पर लटकाया जाए, हिंदू घर में रखें हथियार : साध्वी सरस्वती
कांग्रेस ने गोवा में भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार से साध्वी के खिलाफ एफआईर दर्ज कराने के लिए कहा.


पणजी : गो वध और बीफ खाने को लेकर जारी बहस के बीच साध्वी सरस्वती ने कंट्रोवर्शियल बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि जो लोग बीफ खाने को शान की बात समझते है उन्हें फांसी पर लटका देना चाहिए.

साध्वी सरस्वती ने कहा, 'मैं भारत सरकार से अपील करती हूं कि जो लोग अपनी माता के मांस को खाना शान की बात समझते हैं उन्हें फांसी पर लटका देना चाहिए.'
उन्होंने रामनाथी गांव में अखिल भारतीय हिंदू सम्मलेन के उद्घाटन के दौरान बीफ खाने के मामले पर टिप्पणी करते हुए कहा, 'उन्हें (जो बीफ खाते हैं) जनता के सामने लाना चाहिए और फांसी पर लटका देना चाहिए तभी लोगों को पता चलेगा कि गो माता की रक्षा करना हमारा कर्तव्य है.'

मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा में सनातन धर्म प्रचार सेवा समिति की अध्यक्ष साध्वी सरस्वती यह भी चाहती है कि हिंदू अपनी रक्षा करने के लिए अपने घरों में हथियार रखें.
उन्होंने कहा, 'आज भारत पर चौतरफा हमला किया जा रहा है. कश्मीर को भारत से अलग करने और अमरनाथ तीर्थयात्रा को रोकने की कोशिश की जा रही है. साध्वी सरस्वती ने कहा, भारतमाता-गोमाता का अपमान किया जा रहा है.'

हिंदू राष्ट्र बनाने का आहवान करने वाले संगठनों पर बैन लगाने की कुछ राजनीतिक दलों की मांग की निंदा करते हुए उन्होंने कहा कि उन्हें पता होना चाहिए कि देश में कोई भी ताकत हिंदुओं को हिंदू राष्ट्र बनाने से नहीं रोक सकती.
उन्होंने कहा, 'भगवा आतंकवाद जैसी कोई बात नहीं है. भगवा का मतलब है राष्ट्र और धर्म के प्रति समर्पित जीवन.' 

साध्वी सरस्वती के बुधवार शाम को दी गई इस टिप्पणी पर कांग्रेस ने तीखी प्रतिक्रिया दी है. कांग्रेस ने कहा कि उनके भाषण से साम्प्रदायिक नफरत फैलेगी. 
कांग्रेस ने गोवा में भाजपा के नेतृत्व वाली सरकार से साध्वी के खिलाफ एफआईर दर्ज कराने के लिए कहा.

अखिल भारतीय कांग्रेस समिति के सचिव गिरीश चोडनकर ने आरोप लगाया, 'सम्मेलन में साम्प्रदायिक नफरत फैलाने वाले बयान दिए गए। राज्य सरकार इस पर चुप्पी साधकर और इसे जारी रहने की अनुमति देकर पूरे कार्यक्रम में एक पार्टी बन गई है.' उन्होंने इस मुद्दे पर गोवा फॉरवर्ड पार्टी के नेता विजय सरदेसाई की चुप्पी पर भी सवाल उठाए.


अधिक देश की खबरें