गुजरात चुनावः राहुल ने मोदी पर साधा निशाना बोले कितने स्विस खाताधारकों को जेल में डाला
राहुल ने कहा, चीन से इतनी स्पर्धा होने के बावजूद अभी भी देश में मेड इन चाइना ही चल रहा है।


अहमदाबाद: गुजरात के चुनावी रण में तीखे वार-पलटवार का दौर जारी है। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को गुजरात के भरुच में रैली कर पीएम नरेंद्र मोदी और बीजेपी सरकार को फिर निशाने पर लिया। राहुल ने वर्ल्ड बैंक की रैकिंग में भारत की स्थिति में आए उछाल पर गदगद केंद्र सरकार पर हमला बोला। कांग्रेस उपाध्यक्ष ने पीएम पर निशाना साधते हुए कहा कि मोदी जी की एक सेल्फी से चीन के एक युवा को नौकरी मिल जाती है। राहुल ने 'मेक इन इंडिया' पर भी हमला बोलते हुए कहा कि इससे देश को युवाओं को ज्यादा रोजगार नहीं मिल पा रहा है।

राहुल ने कहा, 'चीन से इतनी स्पर्धा होने के बावजूद अभी भी देश में मेड इन चाइना ही चल रहा है। अपने मोबाइल से मोदी जी जब सेल्फी लेने के लिए बटन दबाते हैं तो उससे चीन में एक युवा को रोजगार मिल जाता है। चीन में हर रोज 50 हजार युवाओं को रोजगार दिया जा रहा है और यहीं नरेंद्र मोदी के मेक इन इंडिया में हर रोज भारत में 450 युवाओं को रोजगार मिलता है। आज पूरे देश में सालभर में बीजेपी सरकार 1 लाख युवाओं को रोजगार दे रही है। यही सच्चाई है। यही मोदी जी और बीजेपी का विकास मॉडल है।' 

विश्व बैंक की सुगम कारोबार वाले देशों की लिस्ट में भारत के एक ही वर्ष में 30 स्थान की बढ़ोतरी पर भी राहुल ने कटाक्ष किया। राहुल ने कहा कि सुगम कारोबार की बात हो रही है, लेकिन वित्त मंत्री अरुण जेटली किसी छोटे कारोबारी के यहां जाकर उससे 'ईज ऑफ डूइंग' बिजनस के बारे में क्यों नहीं पूछ रहे हैं? जीएसटी और नोटबंदी ने छोटे कारोबार को बर्बाद कर दिया है। 

भरुच और सूरत के अपने 3 दिवसीय दौरे की शुरुआत करते हुए राहुल ने मोदी सरकार पर उद्योगपतियों को फायदा पहुंचाने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा, 'समाज का हर वर्ग परेशान है। अब केवल उद्योगपति ही हैं जिन्हें कोई समस्या नहीं है। उन्हें सरकार का पूरा साथ मिला है। वे कुछ नहीं बोलते, कोई समस्या नहीं, कोई आंदोलन नहीं करते हैं। यहां जनता नोटबंदी और जीसटी की मार से त्रस्त है।'


राहुल ने कहा, 'राज्य में पानी नहीं है, आदिवासियों का पानी उद्योगपतियों को दिया जा रहा है। टाटा नैनो के लिए मोदी जी ने 33 हजार करोड़ रुपया फ्री में ही बैंक लोन लिया। इतने में गुजरात के हर किसान का कर्ज माफ किया जा सकता था। क्या नैनो गाड़ी कहीं दिख रही है, इतना पैसा-पानी सब दिया। फिर भी गाड़ी कहीं नहीं दिख रही है। यही मोदी जी का गुजरात का मॉडल है।' 

राहुल ने कहा, 'सरकार से जनता कुछ ही चीजें चाहते हैं। पैरंट्स बच्चों के लिए अच्छी शिक्षा, नौकरी चाहते हैं। राज्य में 90 फीसदी कॉलेज उद्योगपतियों के हाथ में दे दिए गए हैं। शिक्षा के लिए लाखों का खर्चा आता है। गरीबों के हाथ से शिक्षा दूर होती जा रही है। लोगों में गुस्से का यह भी बड़ा कारण है। सरकारी स्कूल-अस्पताल बंद कर दिए गए। सब प्राइवेट हाथों में दे दिए गए। इलाज हो या शिक्षा, पैसा न हो तो काम नहीं चलेगा। यही गुजरात मॉडल है।' 

राहुल ने कहा कि बीजेपी 3 साल से सरकार में है, लेकिन स्विस अकाउंट वाले कितने लोग जेल में हैं? एक भी नाम बता दें जिसे मोदी जी ने जेल में डाला हो। विजय माल्या बाहर इंग्लैंड में बैठकर मजे काट रहा है। 



अधिक देश की खबरें