अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेला शुरु, राष्ट्रपति कोविंद ने किया उद्घाटन
international trade faire


नई दिल्ली, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने व्यापार को आम आदमी के हित का माध्यम बताते कहा कि देश में आर्थिक सुधारों का उद्येश्य गरीबी दूर करना और समृद्धि बढ़ना है। उन्होंने भारत के वार्षिक अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले को ‘लघु भारत’ का स्वरूप बताते हुए आज कहा कि इस मेले में देश की विविध संस्कृति और व्यापारिक गतिविधियों की झलक मिलती है। राष्ट्रपति ने आज राजधानी के प्रगति मैदान में 37वें भारतीय अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले (आई.आई.टी.एफ.) का उद्घाटन करते हुए कहा कि इस मेले से देश-विदश के स्तर पर व्यापारिक गतिविधयों को बढ़ावा मिलता है।  उन्होंने कहा कि आज दुनिया में भारत की पहचान एक आकर्षक निवेश स्थल के रूप में बनी है और भारत में व्यावसायिक परिवेश में हुए सुधार को दुनिया ने मान्यता दी है।

GST को बताया एक अहम उपलब्धि 
देश में जारी आर्थिक सुधारों को महत्वपूर्ण बताते हुए राष्ट्रपति ने कहा इनका मकसद देश से गरीबी दूर करना और लाखों लोगों की समृद्धि बढ़ाना है। उन्होंने कहा, ‘‘व्यापार से आम लोगों को मदद मिलनी चाहिए, क्योंकि अंतत: यह उसी पर टिका होता है।’’ देश में एक जुलाई से लागू की गई माल एवं सेवाकर (जी.एस.टी.) व्यवस्था का जिक्र करते हुए राष्ट्रपति ने कहा कि इसके लागू होने से राज्यों के बीच की बाधाएं समाप्त हुई हैं। उन्होंने कहा, ‘‘जी.एस.टी. का लागू होना एक अहम उपलब्धि है, इससे राज्यों के बीच व्यापार की बाधायें समाप्त हुई हैं।  इससे देश में एक साझा बाजार बना है और आर्थिक गतिविधयों को औपचारिक तंत्र में लाने में मदद मिली है। इससे विनिर्माण क्षेत्र को भी मजबूती मिली है।’’         

222 कंपनियां करेंगी उत्पाद प्रर्दिशत
राष्ट्रपति ने कहा कि देश में शुरू किए गए सुधारों और कारोबार सुगमता से प्रत्यक्ष विदेशी निवेश का आंकड़ा जो कि 2013-14 में 36 अरब डॉलर रहा था वर्ष 2016-17 में बढ़कर 60 अरब डॉलर पर पहुंच गया। सरकार की विभिन्न पहलों, मेक इन इंडिया, डिजिटल इंडिया, स्टार्ट अप इंडिया, स्किल इंडिया और स्मार्ट सिटीज का जिक्र करते हुए कहा कि इन कदमों का मकसद आर्थिक सुधारों को आम आदमी के लिए अधिक सार्थक बनाना है। आई.आई.टी.एफ. 2017 में देश- दुनिया के 3,000 से अधिक प्रदर्शक भाग ले रहे हैं। मेले में 22 देशों की 222 कंपनियां भी अपने उत्पादों और सेवाओं को प्रर्दिशत करेंगी। इसके अलावा सभी राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों, केन्द्र सरकार के विभाग एवं सार्वजनिक उपक्रम भी इसमें भाग ले रहे हैं। उद्घाटन समारोह में राष्ट्रपित कोविंद की पत्नी सविता कोविंद, वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु, वाणिज्य एवं उद्योग राज्य मंत्री सी आर चौधरी, झारखंड के शहरी विकास एवं अवास मंत्री सी पी सिंह तथा भारत में वियतनाम और किरगिस्तान के राजदूत भी समरोह में उपस्थित थे।


अधिक बिज़नेस की खबरें

हैवलेट पैकर्ड एंटरप्राइजेज की मुख्य कार्यकारी अधिकारी मेग व्हिटमैन का इस्तीफा, जानिये कौन हैं मेग व्हिटमैन..

अमेरिका की प्रमुख कंपनी हैवलेट पैकर्ड (एचपी) एंटरप्राइजेज की मुख्य कार्यकारी अधिकारी मेग व्हिटमैन ने अपने पद ... ...