ओशी साहू ने गरीबों को बांटे कम्बल कहा – यही है आज का वास्तविक दान
Oshi Sahu


लखनऊ, कहा जाता है कि दान तभी सार्थक होता है जब वो दान प्राप्ति के वास्तविक हकदारों तक पहुंचें और इस ठंडक में दान का वास्तविक हकदार समाज का वो गरीब और मजलूम वर्ग है जो आज भी अभावों में जी रहा है और अपनी दैनिक अवाश्य्कातों की पूर्ति में भी असमर्थ. पर लोग अक्सर दान मंदिरों और मस्जिदों में करते है.


पर कुछ ऐसे भी जिन्हें अल्लाह और राम से ज्यादा इंसान और इंसानियत की फ़िक्र है. कुछ ऐसी ही मिस इंडिया खादी की प्रतिभागी ओशी साहू. जिन्होंने मिस इंडिया खादी से मिले अपने अपने दैनिक टास्क के मद्देनजर अपने कालेज के प्रिंसपल व स्टाफ के साथ उन अभावयुक्त लोगों को कम्बल बांटे जिन्हें इस ठंडक में कम्बल की सख्त आवश्यकता थी.

खास बात ये है कि ओशी ने इसके लिए अपने कालेज सेंट्रल इन्सीटयूट ऑफ़ प्लास्टिक इंजिनीयरिंग (CIPET) के बच्चों से चंदा जमा कराया जिसके लिए उन्होंने अपने कालेज के प्रिंसपल डाइरेक्टर आर.एम. मिश्र व सीनियर एडमिन ऑफिसर एम.एस. मेहता से भी बात की और उन सभी ने ओशी को इस काम के लिए अपना पूरा सहयोग दिया जिसके बाद कालेज से एकत्र चंदे से आये 12 से 15 कम्बलों को ओशी ने जरूरतमंद लोगों को बांटे.


अधिक मनोरंजन की खबरें