टीचर्स के पास हथियार होते तो रोकी जा सकती थी फ्लोरिडा फायरिंग: ट्रंप
Donald Trump


न्यूयार्क, अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने बुधवार को फ्लोरिडा शूटिंग में सुरक्षित बचे स्टूडेंट्स से मुलाकात की. इस दौरान उन्होंने शिक्षकों को हथियार रखने और चलाने की ट्रेनिंग देने का सुझाव दिया. साथ ही ट्रंप ने कहा कि बंदूकें रखने वालों के बैकग्राउंड की कड़ी जांच करने की बात कही.

उन्होंने कहा कि शिक्षकों का हथियारों से लैस होना, पिछले हफ्ते फ्लोरिडा के स्कूल में हुई गोलीबारी जैसी घटनाओं को रोकने में मदद कर सकता है.

व्हाइट हाउस में मार्जोरी स्टोनमैन डगलस हाई स्कूल के विद्यार्थियों से बातचीत के दौरान ट्रंप ने कहा, "मैं आपका पक्ष सुनना चाहता हूं, लेकिन इससे पहले की हम शुरुआत करें, मैं आपको बता दूं कि अब बैकग्राउंड की कड़ाई से जांच की जाएगी और किसी भी व्यक्ति के मानसिक स्वास्थ्य पर ज्यादा ध्यान दिया जाएगा."

ट्रंप ने यह भी सलाह दी कि कुछ शिक्षकों को हथियार चलाने का प्रशिक्षण दिया जा सकता है ताकि वह बंदूकधारी को रोक सकें.

उन्होंने कहा, "यह सिर्फ उन्हीं के लिए होगा जो बंदूक चला सकने में सक्षम हैं." उन्होंने कहा कि शिक्षकों को विशेष प्रशिक्षण दिया जाएगा. वह मौजूद रहेंगे और अब कोई ‘गन फ्री जोन’ नहीं होगा. यहां ट्रंप ने समझाया कि यहां 'गन फ्री जोन’ का मतलब है ‘ऐसी जगह जहां आप आसानी से बंदूक के साथ जाकर हमला कर सकते हैं.'

फ्लोरिडा कानून के संदर्भ में, स्टोनमैन के एक छात्र लॉरन्ज़ो प्राडो ने कहा कि इस देश का कानून फेल हो चुका है. प्राडो ने कहा कि निकोलस क्रूज़, एक बीयर खरीदने से पहले राइफल खरीदने में सक्षम था क्योंकि देश का कानून 18 साल के लोगों को हथियार खरीदने के लिए अनुमति देता है.

वहीं अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने बंदूक खरीदने की मंजूरी दिए जाने से पहले शख्स की बैकग्राउंड की सटीक तरीके से जांच करने के प्रयासों के प्रति समर्थन भी जताया है.

ट्रम्प ने कहा कि अगर आपके पास एक शिक्षक था, जो हथियारों को चलाने में माहिर था, तो वह हमले से बहुत अच्छी तरह से निपट सकता था.

ट्रंप ने टेक्सास के सीनेटर जॉन कॉर्निन के साथ बात की. जॉन कॉर्निन ने नवंबर 2017 में बंदूक नियंत्रण संबंधी विधेयक को सदन में सहप्रस्तावित किया था, जिसमें बंदूक लाइसेंसधारियों के मानसिक स्वास्थ्य की जांच और उनके क्रिमिनल रिकॉर्ड और बेकग्राउंड की ठोस रूप से जांच करने के लिए इनको नेशनल इंस्टेट क्रिमिनल बैकग्राउंड चेक सिस्टम (एनआईसीएस) को दिया जाता है.

व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव साराह हकाबी सैंडर्स ने कहा, "ट्रंप ने शुक्रवार को इस द्विदलीय विधेयक के बारे में सीनेटर कॉर्निन से बात की थी. इस विधेयक को कॉर्निन और डेमोक्रेटिक सीनेटर क्रिस मर्फी ने पेश किया था."उन्होंने लंबाई के बारे में बताया कि सशस्त्र शिक्षक और सुरक्षा गार्ड संभावित स्कूल निशानेबाजों को कैसे डरा सकते हैं और छात्र की मौत को रोक सकते हैं.


अधिक विदेश की खबरें