इटली को अब भी पसंद बर्लुस्कोनी, एग्जिट पोल में दक्षिणपंथी सरकार बनने का अनुमान
File Photo


नई दिल्ली, इटली में नए संसद के चुनाव के लिए लोगों ने रविवार को वोट डाले. एग्जिट पोल्स के मुताबिक, इस बार में पूर्व प्रधानमंत्री सिल्वियो बर्लुस्कोनी के दक्षिणपंथी गठबंधन को अच्छे-खासे वोट मिलेंगे. धोखाधड़ी के मामले में सजायाफ्ता बर्लुस्कोनी चूंकी खुद प्रधानमंत्री नहीं बन सकते हैं, इसलिए उन्होंने यूरोपीय संसद के अध्यक्ष एंतोनियो तजानी को पीएम पद के उम्मीदवार के रूप में पेश किया है.

इटली के वोटर एक नए कानून के तहत 'चैंबर ऑफ डेप्युटीज' के 630 सदस्यों और सीनेट के 315 सदस्यों को चुन रहे हैं और सोमवार शाम तक चुनाव नतीजे साफ हो जाने की उम्मीद है.

इटली में राइ पब्लिक टीवी की तरफ से किए गए एग्जिट पोल के अनुसार, फोर्जा इटालिया द्वारा गठित पूर्व प्रधानमंत्री सिल्वियो बर्लुस्कोनी के दणिक्षपंथी गठंबधन को 31 से 41 फीसदी वोट मिलने का अनुमान है. वहीं फाइव स्टार मूवमेंट पार्टी के 29-32 फीसदी वोटों के साथ दूसरे स्थान पर, जबकि मौजूदा प्रधानमंत्री मतेयो रेनजी की अध्यक्षता वाली सत्तारूढ़ डेमोक्रेटिक पार्टी को 23 फीसदी ही मत मिलने की संभावना है.

इस बार के चुनाव प्रचार में धुरदक्षिणपंथी दलों और फासीवाद विरोधी कार्यकर्ताओं के बीच काफी तनाव देखा गया. चुनाव प्रचार पर प्रवासियों को लेकर डर और आर्थिक मुद्दे भी हावी रहे.

रविवार को वोट डालने आए मिरको कनाली नाम के एक युवक का कहना है कि बेरोजगारी की समस्या से परेशान नौजवानों ने इस बार व्यवस्था विरोधी पार्टी 'फाइव स्टार मूवमेंट' को सपोर्ट का फैसला किया है.


अधिक विदेश की खबरें