नसों में सूजन का कारण बनती हैं आपकी ये 5 आदतें
नसों में सूजन का कारण बनती हैं आपकी ये 5 आदतें


भागदौड़ भरी जिंदगी के कारण लोगों नसों में सूजन का खतरा बढ़ता जा रहा है। इस समस्या को वेरिकोज वेन्स कहते हैं। यह समस्या ज्यादातर पैरों में देखी जाती है। इसका खास कारण गलत खान-पान और लगातार खड़े या बैठे रहना है। इस समस्या को होने पर पैरों नसें फूलने और बाहर की तरफ उभरने लगती है। ब्लड सर्कुलेशन में समस्या आने लगती है। ब्लड सही तरीके से हार्ट तक नहीं पहुंच पाता। आज हम आपको इसके होने के कारण बताएंगे, जिस पर ध्यान देकर आप इस समस्या से बच सकते हैं।

1. वाल्व खराब होने पर 
ब्लड को पैरों से हार्ट तक पहुंचाने के लिए नसों में वाल्व होते हैं जिसके खराब होने पर नसों ब्लड सही तरीके से हार्ट तक पहुंच नही पाता और पैरों में ही जमने लगता है। जिसके कारण नसें कमजोर और अपनी जगह से हटने लगती है। इन समस्याओं के कारण इसमें सूजन हो सकती हैं।

2. ज्यादा देर बैठे रहना
लगातार बैठे रहने पर भी रक्त का संचार रूकने लगता है। जिसके कारण वेरिकोज वेन्स की समस्या होने लगती है। अगर ऑफिस में आपका काम एक ही जगह बैठने का है तो बीच-बीच उठकर थोड़ा जरूर घूमें।

3. लगातार खड़े रहने पर 
इस समस्या को ज्यादातर उन लोगों में देखा जा सकता है। जिन्हें लगातार एक ही जगह पर खड़ा रहना पड़ता है। लगातार खड़े रहने पर नसों में दबाव पड़ने लगता हैं और ब्लड एक ही जगह पर रूकने लगता है। इससे से राहत पाने के लिए बीच-बीच टहल लेना चाहिए।

4. नमक की अधिक मात्रा लेने पर
नमक की अधिक मात्रा लेने से भी इस समस्या का खतरा बढ़ जाता है। नमक ज्यादा लेने से ब्लड प्रेशर हाई हो जाता है। इस प्रेशर को कंट्रोल करने के लिए नसों को फैलना पड़ता है। जिसके कारण इस समस्या के होने के चांस बढ़ने लगते हैं।

5. पैरों भार और मोड़कर बैठने से 
पैरों पर भार और मोड़कर बैठने से भी ब्लड सर्कुलेशन कम हो जाता है। पैरों में   सनसनाहट होने लगती है और नसों में सूजन की समस्या हो जाती है इसलिए कभी एक पोजीशन में न बैठे।


अधिक सेहत/एजुकेशन की खबरें