उन्नाव रेप केस: अतुल सेंगर को साथ लेकर CBI ने किया घटना का डेमो
उन्नाव रेप केस: अतुल सेंगर को साथ लेकर CBI ने किया घटना का डेमो
File Photo


उन्नाव, उन्नाव रेप और हत्या मामले में विधायक कुलदीप सिंह सेंगर के भाई अतुल सेंगर को लेकर सीबीआई टीम ने माखी थाना क्षेत्र में डेमो किया. इस दौरान सीबीआई की टीम के साथ फोरेंसिक टीम भी मौजूद रही. मौके पर दो घंटे रोकने के बाद पीड़िता के पिता की हत्या मामले में डेमो शुरू किया गया.  इससे पहले आरोपियों से पूछताछ की गई. सीबीआई टीम ने आरोपियों को सड़क पर उतार घटना का पूर्वावलोकन किया. यही नहीं माखी की गलियों और रास्तों में घूम कर घटना का नजरी नक्शा भी बनाया गया.

मंगलवार को सीबीआई कोर्ट ने अतुल सेंगर व उसके साथियों को 4 दिन की रिमांड पर भेजा है. सीबीआई टीम बुधवार को दफ्तर में करीब 1 घंटे की पूछताछ के बाद अतुल सेंगर और उसके साथियों को लेकर मौका-ए-वारदात पर पूछताछ के लिये रवाना हो गई.

इधर कुछ देर बाद सीबीआई के स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना भी वार्षिक निरीक्षण के लिए लखनऊ के सीबीआई दफ्तर पहुंचे. सूत्रों के मुताबिक सीबीआई के स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना ने न सिर्फ सीबीआई के आला-अधिकारियो के साथ एक अहम बैठक कर प्रमुख केसों की प्रगति की समीक्षा की. वहीं इस दौरान उन्नाव रेप और मर्डर केस में अब तक सीबीआई द्वारा की गई कार्रवाई की भी विस्तृत जानकारी भी ली.

दरअसल अतुल सिंह के अलावा चार अन्य आरोपी-सोनू सिंह, वीरेन्द्र सिंह उर्फ़ बउवा, शैलू सिंह और विनीत मिश्रा को भी सीबीआई ने रिमांड पर लिया है. कहा जा रहा है कि पीड़िता के पिता के साथ मारपीट और बाद में हुई उनकी मौत मामले में सीबीआई विधायक के भाई से सच उगलवाएगी. चार दिनों में सीबीआई पूछताछ के अलावा क्राइम सीन का रिक्रिएशन भी करेगी.

बता दें इस मामले में 4 अप्रैल को गैंगरेप पीड़िता की मां ने माखी थाने में एक रिपोर्ट दर्ज करवाई थी. अपनी तहरीर में पीड़िता की मां ने आरोप लगाया था कि उनके पति दिल्ली से किसी मुक़दमे के सिलसिले में उन्नाव आए थे. 3 अप्रैल को आरोपी सोनू, शैलू, बउवा और विनीत मिश्रा ने उन्हें मारपीट कर घायल कर दिया. पति को बचाने आई पुत्रियों और सास को भी मारा पीटा गया. बाद में इलाज के दौरान अस्पताल में उनकी मृत्यु हो गई. जिसके बाद पुलिस ने आरोपी अतुल सिंह और अन्य आरोपियों को गिरफ्तार कर हत्या की धाराएं बढ़ा दी थी.


अधिक राज्य की खबरें