उप्र  : पिता ने दोस्‍तों से कराया गैंगरेप, फिर खुद बेटी को बनाया हवस का शिकार
File Photo


सीतापुर: देश के कई हिस्सों से आए दिन दुष्कर्म की घटनाएं सामने आ रही हैं. उत्तर प्रदेश में मानवता को शर्मसार करने वाली घटना सीतापुर से सामने आई है, जहां एक बाप ने अपनी ही बेटी को अपने दोस्तों को सौंपकर पहले उसका गैंगरेप करवाया और बाद में उसने खुद भी अपनी बेटी के साथ दुष्कर्म किया. मामला सीतापुर के कमलापुर थाना क्षेत्र का है. पुलिस ने शिकायत के बाद इस मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि दो अभी भी फरार हैं. 

18 घंटों तक युवती को रखा कैद
पुलिस ने बताया कि पीड़िता अपने पिता के साथ रविवार (15 अप्रैल) को कमालपुर इलाके में लगे एक मेले में घूमने गई थी. मेले के बाद युवती के पिता ने अपने एक मित्र मान सिंह को वहां बुलाया और अपनी बेटी को उसके हवाले कर दिया. मान सिंह और उसका पिता उसे फिर एक और दोस्त मेराज के घर लेकर पहुंचा. जहां 18 घंटों तक पीड़िता को घर में कैदकर, तीनों ने उसके साथ गैंगरेप किया. 

मां के साथ थाने पहुंची पीड़िता
जानकारी के मुताबिक, सोमवार (16 अप्रैल) को पीड़िता किसी तरह अपने घर पहुंची और अपनी मां को ये पूरी दास्तान सुनाई. इसके बाद पीड़िता अपनी मां के साथ थाने पहुंची और तीनों आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई. 

एक आरोपी गिरफ्तार
पुलिस के मुताबिक, एफआईआर दर्ज होने के बाद उसने तुरंत कार्रवाई की और आरोपी मेराज को गिरफ्तार कर लिया. मेराज ने पुलिस को बताया कि घटना के वक्त वो घर में अकेला था. वहीं, पीड़िता के पिता और मान सिंह को अभी फरार हैं. 

बाप पहले भी बना था दरिंदा
सीतापुर एसपी सुरेशराव ए. कुलकर्णी ने बताया कि साल 2017 में पीड़िता के पिता को अपनी बेटी के साथ गलत संबंध रखने के आरोप में पुलिस ने आरोपी पिता को गिरफ्तार किया था. इसी साल फरवरी में उसे जमानत मिली थी. इस घटना के बाद से ही पीड़िता अपने 14 साल के बच्चे के साथ अलग रह रही थी. जानकारी के मुताबिक, पीड़िता की शादी 16 साल पहले हुई थी लेकिन शादी के 2 साल बाद ही वो वापस अपने माता-पिता के घर आ गई थी. 


अधिक राज्य की खबरें

भाजपा के नौकरी लालीपॉप से प्रदेश का युवा हो रहा है डिप्रेशन का शिकार : सुरेन्द्रनाथ त्रिवेदी..

राष्ट्रीय लोकदल के प्रदेश प्रवक्ता सुरेन्द्रनाथ त्रिवेदी ने केन्द्र और प्रदेश सरकार को पूर्णतः युवा विरोधी करार ... ...