टैग: #congress, #mlas, #bjp,
सत्ता हथियाने के लिए कांग्रेस की बैक डोर से एंट्री, 75 विधायक परेड को तैयार
सत्ता हथियाने के लिए कांग्रेस की बैक डोर से एंट्री, 75 विधायक परेड को तैयार


बेंगलुुरु। कर्नाटक की राजनीति में हर पल घटनाक्रम बदलता जा रहा है। कांग्रेस बीजेपी पर विधायकों को तोडऩे की कोशिश करने का आरोप लगा रही है, वहीं बीजेपी का कहना है कि कांग्रेस सत्ता हथियाने के लिए बैक डोर ऐंट्री की कोशिश कर रही है। विधायक दल की बैठक के बाद जेडीएस के कुमारस्वामी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बीजेपी पर उनके विधायकों को 100 करोड़ रुपये और मंत्रिमंडल में जगह का लालच देने का आरोप लगाया है। 


शाम पांच बजे कांग्रेस और जेडीएस नेता व विधायक राज्यपाल से मिले। सूत्रों के अनुसार कहा जा रहा है कि कुछ ही देर में राज्यपाल के सामने विधायकों की परेड हो सकती है। कांग्रेस के 78 में से 75 विधायक परेड को तैयार बताए जा रहे हैं। 

विधायकों को खरीदने की कोशिश
कुमारस्वामी ने बीजेपी से सवाल किया कि बीजेपी के पास विधायकों को खरीदने के लिए पैसे कहां से आए, इसकी जांच होनी चाहिए। जिस पैसे का इस्तेमाल गरीबों के लिए होना चाहिए, वह पैसा विधायकों को खरीदने में इस्तेमाल हो रहा है।


100 करोड़ का ऑफर गलत 
बीजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर ने इस पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि 100 करोड़ रुपये ऑफर करने की बात पूरी तरह गलत है। कांग्रेस और जेडीएस इसी तरह से राजनीति करती हैं। जवाडेकर ने कहा, हम पूरी तरह नियमों के साथ आगे बढ़ रहे हैं, हमने राज्यपाल को सरकार बनाने के लिए अपना दावा पेश किया है। हम सरकार बनाने को लेकर पूरी तरह आश्वस्त हैं।

तो धरने पर होंगे विधायक...
कांग्रेस के सीनियन नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि यदि कांग्रेस-जेडीएस को राज्यपाल द्वारा निमंत्रण नहीं दिया जाता है तो कल सभी विधायक राजभवन के सामने धरने पर बैठेंगे। हमारे सांसद भी इस धरने में शामि हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस और जेडीएस गठबंधन के पास सरकार बनाने के लिए सभी जरूरी नंबर हैं, जबकि बीजेपी के पास जरूरी नंबर नहीं हैं।


अधिक देश की खबरें

अमृतसर रेल हादसाः ड्राइवर ने कहा, 'मैंने ब्रेक लगाया लेकिन ट्रेन रुकी नहीं, लोग पत्थर फेंकने लगे तो बढ़ा दी स्पीड'..

अमृतसर में दशहरा उत्सव के दौरान हुए रेल हादसे में 61 लोगों की मौत के बाद जीआरपी ... ...