नवाज की गिरफ्तारी के लिए 16 लोगों की टीम, 2 हेलिकॉप्टर और 10 हजार पुलिसकर्मी तैनात
File Photo


पाकिस्तान में प्रशासन ने पाकिस्तान मुस्लिम लीग - नवाज (पीएमएल - एन) कार्यकर्ताओं के खिलाफ बड़े पैमाने पर कारवाई शुरू की है. करीब 300 कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया है. पीएमएल - एन की अपने शीर्ष नेता और पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की लंदन से स्वदेश वापसी पर हवाई अड्डे पर बड़ी रैली की तैयारी के मद्देनजर यह कारवाई शुरू की गई.

शरीफ और उनकी बेटी मरियम नवाज के स्थानीय समयानुसार शुक्रवार शाम 6.15 बजे लाहौर पहुंचने की संभावना है. शरीफ और मरियम को पाकिस्तान की एक अदालत ने एवनफील्ड अपार्टमेंट मामले में दोषी ठहराते हुए 10 और 7 साल की सजा सुनाई है.

वहीं , नेशनल अकाउंटबिलिटी ब्यूरो (एनएबी) के चेयरमैन जावेद इकबाल ने नवाज शरीफ और मरियम की हवाई अड्डे पर गिरफ्तारी के लिए हर संभव कदम उठाने के निर्देश दिए हैं. दोनों नेताओं की गिरफ्तारी के लिए एक 16 सदस्यीय कमेटी का भी गठन किया गया है.

सूत्रों के मुताबिक, कैबिनेट डिवीजन ने दो हेलीकॉप्टर अलॉट किए हैं, जिसके जरिए नवाज और उनकी बेटी मरियम को जेल भेजा जाएगा. उन्होंने कहा कि एक हेलीकॉप्टर लाहौर हवाई अड्डे पर होगा, जबकि दूसरा इस्लामाबाद में होगा और दोनों में से किसी भी हवाई अड्डे पर उतरने पर पिता-बेटी को गिरफ्तार किया जाएगा.

उप निरीक्षक जनरल ऑपरेशन्स शाहजाद अकबर ने कहा कि 'कानून और व्यवस्था बनाए रखने' के लिए पूरे शहर में 10,000 पुलिस अधिकारी तैनात किए गए हैं.

एंटी- रॉयट्स यूनिट भी अलर्ट पर होगी और डॉल्फिन स्क्वाड और पुलिस रिस्पांस यूनिट शहर के संवेदनशील क्षेत्रों में तैनात की जाएगी. उन्होंने कहा, 'किसी को भी अपने हाथों में कानून लेने की इजाजत नहीं दी जाएगी.' लाहौर पुलिस ने हवाईअड्डे की ओर जाने वाली शहर की सड़कों पर कंटेनर रखा है. गाड़ी चालकों के लिए एक संकरा रास्ता छोड़ा गया है जहां जांच के लिए पुलिस तैनात की गई है.

लाहौर पुलिस अधिकारी सरदार असिफ ने कहा, 'शुक्रवार को एयरपोर्ट पर 100 से अधिक पुलिस कमांडो तैनात किए जाएंगे ताकि किसी भी अप्रिय घटना से बचा जा सके.'


उन्होंने कहा कि शरीफ के आने से पहले पुलिस केवल सामाजिक-विरोधी तत्वों को हिरासत में ले रही है. उन्होंने कहा कि गिरफ्तार पीएमएल-एन कार्यकर्ताओं को सार्वजनिक आदेश के तहत 30 दिनों के लिए हिरासत में लिया गया है.

पीएमएल - एन प्रवक्ता मरियम औरंगजेब ने बताया कि पुलिस ने करीब 300 कार्यकर्ताओं , जिनमे से ज्यादातर लाहौर के हैं , को गिरफ्तार किया है ताकि वो अपने नेताओं के स्वागत के लिए हवाई अड्डे नहीं पहुंच सके. उन्होंने कहा कि इतने बड़े पैमाने पर पीएमएल - एन कार्यकर्ताओं के खिलाफ कभी कारवाई नहीं की गई. मार्शल लॉ के दौरान भी नहीं. इसके बावजूद कार्यकर्ता अपने नेताओं के भव्य स्वागत के लिए जरूर पहुंचेंगे. 


अधिक विदेश की खबरें