पाकिस्तान : नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम गिरफ्तार, बख्तरबंद गाड़ियों में जेल ले जाया गया
File Photo


लाहौर : पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम को शुक्रवार रात स्वदेश लौटते ही गिरफ्तार कर लिया गया. इसके बाद उन्हें रावलपिंडी स्थित अदियाला जेल ले जाया गया. देश के इस प्रभावशाली परिवार को उनके खिलाफ भ्रष्टाचार के तीन मामलों में से एक में दोषी करार दिया गया है. उल्लेखनीय है कि पाकिस्तान में आम चुनाव होने में कुछ ही सप्ताह का समय बचा है.

अदियाला जेल स्थानांतरित किया गया
शरीफ और मरियम को अलग-अलग बख्तरबंद गाड़ियों में अदियाला जेल स्थानांतरित किया गया. वाहनों की सुरक्षा में पुलिस भी तैनात थी. जेल नियमावली के अनुसार, उनकी जेल अस्पताल में चिकित्सकीय जांच की जा सकती है. उम्मीद है कि मरियम को सिहाला रेस्ट हाउस ले जाया जाएगा, जिसे उप जेल घोषित किया गया है. शुरुआत में कहा गया था कि दोनों को एक हेलीकॉप्‍टर में ले जाया जाएगा, लेकिन अंधेरे के चलते ऐसा नहीं किया गया. इससे पूर्व शरीफ और मरियम को लेकर विमान भारतीय समयानुसार रात करीब सवा नौ बजे लाहौर के अल्लामा इकबाल हवाई अड्डे पर उतरा. विमान अपने निर्धारित समय से करीब तीन घंटे देरी से पहुंचा.

शरीफ और मरियम को एक विशेष निजी विमान से इस्लामाबाद भेजा गया
हवाई अड्डे के एक अधिकारी के अनुसार, दोनों ने देश की भ्रष्टाचार निरोधक इकाई ‘राष्ट्रीय जवादेही ब्यूरो’ के समक्ष बिना किसी विरोध के आत्मसमर्पण कर दिया. बाद में शरीफ और मरियम को एक विशेष निजी विमान से इस्लामाबाद भेजा गया. विमान न्यू इस्लामाबाद के अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे उतरा.

शरीफ ने रेंजर्स के वाहन में बैठने से इनकार कर दिया
एतिहाद एयरवेज की उड़ान EY 243 अबू धाबी से यहां पहुंची. यहां आने से पहले शरीफ और उनकी बेटी लंदन से संयुक्त अरब अमीरात की राजधानी अबू धाबी पहुंचे थे. शरीफ की पत्नी कुलसुम गले के कैंसर से पीड़ित हैं और वह लंदन के अस्पताल में जिदंगी की जंग लड़ रही हैं. बाद में शरीफ ने हवाई अड्डा टर्मिनल जाने के लिए रेंजर्स के वाहन में बैठने से इनकार कर दिया. संघीय जांच एजेंसी (एफआईए) के अधिकारी उनके पासपोर्ट आव्रजन के लिए ले गए.

शरीफ और मरियम के पासपोर्ट जब्‍त
मीडिया की खबरों के अनुसार शरीफ के विमान के हवाई अड्डा पहुंचने पर बड़ी संख्या में सुरक्षा अधिकारी विमान में दाखिल हो गए और उन्होंने अन्य यात्रियों से जाने के लिए कहा. दोनों के पासपोर्ट को एफआईए की टीम ने जब्त कर लिया और दोनों को शरीफ की मां बेगम शमीम अख्तर से हज लाउंज में भेंट करने दिया गया.

शरीफ को दस और मरियम को हुई है सात साल की सजा
दोनों को गत छह जुलाई को लंदन में चार आलीशान फ्लैटों की मिल्कियत से जुड़े एवेनफील्ड संपत्ति मामले में दोषी ठहराया गया था. शरीफ (68) और उनकी बेटी मरियम (44) को एक जवाबदेही अदालत ने क्रमश: दस और सात साल की कैद की सजा सुनाई है. शरीफ का परिवार जवाबदेही अदालत में भ्रष्टाचार के दो और मामलों ...अल अजीजिया स्टील मिल्स और फ्लैगशिप इंवेस्टमेंट्स.. का सामना कर रहा है. इसमें उन पर धनशोधन, कर चोरी और विदेशों में सम्पत्ति छुपाने का आरोप है.


अधिक विदेश की खबरें