यूपी में इस बार कांवड़ियों पर फूल बरसाएगी योगी सरकार
File Photo


लखनऊ, उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने शिव भक्तों की कांवड़ यात्रा के दौरान पहली बार हेलीकाप्टर से फूलों की बारिश करने का फैसला लिया है. इस बार कांवड़ यात्रा के दौरान हेलीकॉप्टर, ड्रोन कैमरा और सीसीटीवी से निगरानी की जाएगी.

बता दें कि कांवड़ यात्रा 28 जुलाई यानी श्रावण मास के शुरुआत से 9 अगस्त तक चलेगी. इस दौरान रात में शिव भक्तों को कोई दिक्कत ना हो इसके लिए रास्तों को एलईडी लाइट से रोशन किया जाएगा.

यात्रा मार्ग पर शराब और मांस की बिक्री को पूरी तरह से बंद कराया जाएगा. निगरानी के लिए एक कंट्रोल रूम बनाया जाएगा जो यात्रियों को पल-पल की जानकारी देंगे. कांवड़ यात्रा के दौरान ट्रैफ़िक यातायात को जीपीआरएस से नियंत्रित किया जाएगा और पूरे रूट की जियो मैपिंग से निगरानी की जाएगी.

यूपी के डीजीपी ओपी सिंह ने बताया कि एम्बुलेंस के अलावा सरकारी और प्राइवेट अस्पताल को भी आरक्षित बेड के साथ तैयार रखा जाएगा. डीजीपी ने कहा कि अफवाह फैलाने वालों से पुलिस सख्ती से पेश आएगी और जिले की सर्विलांस सेल सोशल मीडिया की मॉनीटरिंग करेगी. पुलिस, पीएसी और सेंट्रल पैरामिलिट्री फोर्स के अलावा एंटी टेररिस्ट स्क्वॉड के कमांडो की निगहबानी में कांवरिया रूट और प्रमुख शिवालय होेंगे.

कावड़ यात्रा की समीक्षा बैठक में भाग लेने मेरठ पहुंचे प्रमुख सचिव गृह और डीजीपी डीजे बंद व लाठी-डंडों को लेकर कुछ नहीं बोले और उठ कर चले गए. प्रमुख सचिव गृह अरविंद कुमार ने कहा कि इस बार कांवड़ यात्रा को पॉलिथीन मुक्त रखने की कोशिश रहेगी. जगह-जगह लगे शिविरों पर भी पॉलिथीन मुक्त के बैनर लगाए जाएंगे. साथ ही एनाउंसमेंट के जरिए कांवड़ यात्रा में कांवड़ियों से पॉलिथीन के इस्तेमाल नहीं करने की अपील की जाएगी. इससे एक संदेश भी जाएगा और कुछ हद तक पॉलिथीन पर भी प्रतिबंध लगेगा.


अधिक राज्य की खबरें